Exit Polls में भले मिली AAP को बढ़त, केजरीवाल फिर भी आशंकित; पार्टी नेताओं के साथ की बैठक

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी फिर से शानदार प्रदर्शन के साथ सत्ता में वापसी के लिए तैयार है. आप की ‘विकास’ की राजनीति भाजपा के ‘राष्ट्रवाद’ की राजनीति पर हावी होती दिख रही है. दिल्ली विधानसभा चुनाव के बाद आए एग्जिट पोल के नतीजों में यह संकेत साफ देखने को मिला. आम आदमी पार्टी एग्जिट पोल के नतीजों से खुश है लेकिन अभी भी ईवीएम की सुरक्षा को लेकर चिंतित है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पार्टी नेताओं के साथ अपने आवास पर बैठक की. इस बैठक में मनीष सिसोदिया, गोपाल राय और संजय सिंह के साथ चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर भी मौजूद रहे.

दिल्‍ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) के मद्देनजर अब तक कई चैनलों/एजेंसियों के एक्जिट पोल के अनुमान व्‍यक्‍त किए गए हैं. AAP पिछली बार का चुनावी करिश्‍मा तो नहीं दोहरा पाएगी लेकिन तकरीबन 50 सीटें हासिल कर लेगी. आम आदमी पार्टी को 50.6%, बीजेपी को 36 और कांग्रेस को 9% वोट मिलने की संभावना है.

जेपी नड्डा ने दिल्ली के सभी सांसदों की बैठक बुलाई
दिल्ली विधानसभा चुनाव के एग्जिट पोल्स के नतीजों के बाद बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने दिल्ली के सभी सांसदों की मीटिंग बुलाई. राज्य के सभी 7 बीजेपी सांसद डॉ. हर्षवर्धन, गौतम गंभीर, मीनाक्षी लेखी, मनोज तिवारी, हंसराज हंस, रमेश बिधूड़ी, प्रवेश वर्मा बीजेपी मुख्यालय पहुंच चुके हैं. सूत्रों ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेता विजय गोयल, हरदीप सिंह, नित्यानंद राय और प्रकाश जावड़ेकर मीटिंग मौजूद रहेंगे. बता दें शनिवार को दिल्ली में हुई वोटिंग के बाद आए रुझानों में बीजेपी बहुमत के आंकड़े से दूर नजर आ रही है.