Defense Expo 2020 : उप्र की क्षमता पर अब नहीं उठने चाहिए सवाल : सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ

लखनऊ। डिफेंस एक्सपो के समापन समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसके भव्य आयोजन ने उप्र के बारे में देश और दुनिया की धारणा बदली है। बीते ढाई वर्षों के दौरान हमने डिफेंस एक्सपो समेत विभिन्न आयोजनों को जिस तरह से सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंचाया है, उससे उप्र की क्षमता पर अब तो किसी को भी प्रश्न नहीं खड़े करने चाहिए। इस आयोजन ने प्रदेश के डिफेंस कॉरिडोर को एक मजबूत आधार उपलब्ध कराया है। डिफेंस कॉरिडोर देश में रक्षा उत्पादन का सशक्त हब बनने में कामयाब होगा।

योगी ने कहा कि जब रक्षा मंत्री ने लखनऊ में डिफेंस एक्सपो को अद्वितीय और अविस्मरणीय तरीके से आयोजित करने की पेशकश की थी तो हमारे सामने यह एक चुनौती थी और अवसर भी। चुनौती इसके भव्य आयोजन की थी। हम चाहते थे कि हम डिफेंस एक्सपो के जरिये नई ऊंचाइयों को छुएं जो उप्र की क्षमता के अनुरूप हो। हमारी टीम ने अथक परिश्रम कर इसे अब तक का सफलतम डिफेंस एक्सपो बनाया। वहीं अवसर था रक्षा क्षेत्र में निवेश जुटाने का।

रक्षा क्षेत्र में निवेश के लिए उप्र सरकार ने एक्सपो के दौरान 23 अनुबंध (एमओयू) किये जिनसे 50 हजार करोड़ रुपये का निवेश और ढाई से तीन लाख युवाओं को रोजगार मिलेगा। अर्थशास्त्र का नियम है कि पैसा लगाओ और उससे और पैसा कमाओ। हमने डिफेंस एक्सपो के आयोजन में जो रकम लगाई, उसे टैक्स के रूप में वसूलने में भी कामयाब रहे। समापन समारोह में औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, मुख्य सचिव आरके तिवारी, रक्षा सचिव डॉ.अजय कुमार, रक्षा मंत्रालय व शासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।