कोरोना वायरस: अंतरराष्ट्रीय आपातकाल घोषित, जापानी क्रूज में 2 भारतीय संक्रमित

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को अंतरराष्ट्रीय जन-स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया है. वहीं अब जापान के योकोहामा तट पर खड़े डायमंड प्रिंसेज क्रूज में 2 भारतीय भी इस वायरस की चपेट में आ गए हैं. क्रूज पर 3711 लोग सवार हैं जिनमें 2666 गेस्ट और 1045 चालक दल के सदस्य हैं. इसमें 132 चालक दल के सदस्य और 6 यात्री भारतीय नागरिक हैं. भारत के क्रू मेंबर्स ने प्रधानमंत्री मोदी से खुद को बचाने की गुहार लगाई है.

174 लोग नोवेल कोरोना वायरस से संक्रमित

नोवेल कोरोनोवायरस (nCoV) संक्रमण के संदेह के कारण क्रूज को 19 फरवरी 2020 तक जापानी अधिकारियों ने अपनी निगरानी में रखा है. 12 फरवरी 2020 तक कुल मिलाकर 174 लोग नोवेल कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. इनमें 2 भारतीय चालक दल के सदस्य भी शामिल हैं. सभी 174 को जापानी स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के अनुसार पर्याप्त उपचार के लिए अस्पतालों में ले जाया गया है. जिन लोगों के सैंपल पॉजिटिव नहीं पाए गए हैं, उन्हें क्रूज से जाने की इजाजत नहीं दी गई है. हालांकि, गंभीर रूप से बीमार यात्रियों / चालक दल के सदस्यों को अस्पतालों या मेडिकल सुविधाओं की निगरानी में ले जाने की अनुमति दी गई है.

ANI

@ANI

2 Indian crew members tested positive for novel Coronavirus onboard quarantined cruise ship Diamond Princess; 174 people on the ship have tested positive. The cruise ship has been kept in quarantine at anchor, off the coast of Yokohama, Japan till 19 February.

80 people are talking about this

जापान के संपर्क में भारत

टोकियो में भारतीय दूतावास जापानी अधिकारियों के साथ लगातार संपर्क में है ताकि जहाज पर भारतीय नागरिकों की सलामती सुनिश्चित की जा सके. भारतीय दूतावास क्रूज पर फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने की पूरी कोशिश में है जिन लोगों के सैंपल निगेटिव पाए गए हैं. जापानी अधिकारियों ने पुष्टि की है कि वे स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन कर रहे हैं.

4 की हालत गंभीर

जापानी क्रूज पर अब तक कुल 174 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं. इनमें से 4 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है. क्रूज पर तैनात कुछ अधिकारी भी इससे संक्रमित हो गए हैं. बता दें कि इस क्रूज पर कुल 3711 लोग एक सप्ताह से फंसे हुए हैं. इस क्रूज पर हांगकांग से सवार हुए एक शख्स में सबसे पहले कोरोना वायरस के लक्षण सामने आए थे. क्रूज में कुल 138 भारतीय नागरिक भी मौजूद हैं. भारतीय दूतावास जापान प्रशासन के साथ संपर्क में है.

बंगाल आने की मिली इजाजत

उधर बंगाल में एक जहाज पर सवार 19 चीनी क्रू मेंबर्स को कोलकाता पोर्ट पर आने की इजाजत दे दी गई है. यह जहाज शंघाई से आ रहा था. इन सभी चीनी क्रू मेंबर्स को सागर आइलैंड पर उपचार दिए जाने के बाद कोलकाता पोर्ट पर आने की इजाजत दी गई. कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट ने पिछले महीने सभी लोगों के टेस्ट करने का निर्देश दिया जो लोग वहां आ रहे हैं. कोरोना वायरस को देखते हुए यह निर्देश जारी किया गया है. एक अधिकारी ने कहा, क्रूज पर सवार 19 चीनी लोगों का उपचार किया गया. इनमें क्रूज के कैप्टन झाउ यिंगदे भी शामिल हैं. कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट में इन सभी का सैंपल निगेटिव पाया गया, उसके बाद उन्हें प्रवेश की इजाजत दी गई.

वीडियो में बचाने की गुहार

दूसरी तरफ डायमंड क्रूज पर सवार एक भारतीय ने वीडियो संदेश के जरिये खुद को बचाने की अपील की है. क्रूज में सवार यह व्यक्ति तमिलनाडु के मदुरै का रहने वाला है और इसका नाम अनबलगन है. वीडियो में अनबलगन ने दिखाया है कि जहाज में लोग कैसे फंसे हैं. वीडियो में दिखाया गया है कि सभी लोग जहाज के टॉप फ्लोर पर हैं जबकि उनका भोजन पानी उनके कमरे में ही भेजा जा रहा है.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम ने कहा है कि न्यू कोरोना वायरस से ग्रस्त निमोनिया को डब्ल्यूएचओ ने सीओवीआईडी-9 नाम दिया है. उन्होंने कहा कि पहला टीका 18 महीनों के भीतर तैयार कर लिया जाएगा.