डोनाल्ड ट्रंप बोले, आतंकवाद से निपट लेंगे नरेंद्र मोदी; मैंने उनको कार्रवाई करते देखा

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में विश्वास व्यक्त करते हुए कहा है कि वे आतंकवाद से निपट लेंगे। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि मोदी बहुत धार्मिक और शांत प्रकृति के व्यक्ति हैं। लेकिन, असल में वे बहुत सख्त हैं। मैंने उनको कार्रवाई करते देखा है। उनके जेहन में आतंकवाद सबसे ऊपर है और वे इस समस्या का समाधान कर लेंगे।

ट्रंप बोले, मैंने कुछ महीने पहले बगदादी को मारा

आतंकवाद को कुचलने के अपने रिकॉर्ड की चर्चा करते हुए ट्रंप ने कहा कि मैंने किसी अन्य व्यक्ति से ज्यादा आतंकियों को खत्म किया है। मैंने कुछ महीने पहले अल-बगदादी को मारा और उसकी खिलाफत को पूरी तरह से खत्म कर दिया। कासिम सुलेमानी और हमजा बिन लादेन (ओसामा का बेटा) मारे जा चुके हैं। आतंकवाद के खिलाफ किसी ने इतना काम नहीं किया है, जितना मैंने किया है। उन्होंने कहा कि रूस, सीरिया और ईरान को भी कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवाद से निपटना चाहिए।

इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ भारत और अमेरिका एक साथ

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने आतंकवाद के मुद्दे पर भारत के साथ और सहयोग करने का आश्वासन दिया व कहा कि वह पाकिस्तान पर लगातार दबाव बना रहे हैं। पाक का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि आतंकवाद का साथ देने वाले देशों पर दबाव बनाने का काम और तेज होगा। उन्होंने कहा कि इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ भारत व अमेरिका का सहयोग और मजबूत होगा।

गौरतलब है कि ट्रंप के दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन दोनो नेताओं ने तकरीबन 45 मिनट व्यक्तिगत तौर पर बात की और इसके बाद दोनों नेताओं की अगुवाई में अधिकारी स्तर की बातचीत एक घंटे चली। दोनो नेताओं की बातचीत वैसे तो रक्षा, सुरक्षा, ऊर्जा, कारोबार, तकनीकी हस्तांतरण से जुड़े द्विपक्षीय मुद्दों पर ही केंद्रित रही लेकिन स्थानीय व वैश्विक मुद्दों को भी अच्छा खासा समय दिया गया। इसके तहत कश्मीर, पाकिस्तान समर्थित आतंकवाद और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन के बढ़ते वर्चस्व के खिलाफ संयुक्त रणनीति बनाने का मुद्दा भी प्रमुख रहा।