सड़क पर गिरे 2-2 हजार के नोटों से मचा हड़कंप, कोरोना फैलाने की कोशिश, पुलिस ने संभाला

नई दिल्‍ली। कोरोना संक्रमण के बीच तबलीगी जमात कोरोना विस्‍फोट की तरह सामने आई, और इसके बाद शुरू हुआ जमातियों की बेहूदगी का सिलसिला । ऐसी घटनाओं के बाद गली – मोहल्‍लों से भी खबरें आने लगीं कि फलां शख्‍स ने थूक लगाकर सामान को कोरोना से संक्रमित करने की कोशिश की । दिल्‍ली के बुध विहार क्षेत्र में एक ऐसी ही खबर से हड़कंप मच गया जब लोगों ने पुलिस को यू सूचना दी कि किसी ने दो – दो हजार के नोट थूक लगाकर सड़क पर फेंक दिए हैं ।

तेजी से फैली अफवाह

सड़क पर गिरे 2-2 हजार के नोट आम दिनों में दिखते तो लोग उन्‍हें उठाने में देरी नहीं करते लेकिन संक्रमण फैलाने के मकसद  से नोट गिराने की ये खबर उड़ी तो लोगों ने पैसे उठाने की गलती नहीं की । लोगों ने नोटों को हाथ नहीं लगाया और उस ‌इलाके से सभी लोग दूर हट गए । मामले की जानकारी पुलिस को दी गई । अमर उजाला की एक रिपोर्ट के अनुसार नोटों को देख किसी ने कह दिया कि ये नोट कोरोना संक्रमित व्यक्ति ने थूक लगा कर फेंक दिए हैं ।

साजिश की फैली अफवाह

यहां लोगों का कहना था कि कोरोना को फैलाने के लिए किसी ने ये साजिश की है । इसके बाद इलाके में हड़कंप मच गया । सूचना मिलने पर जग पुलिस वहां पहुंची तो पुलिस ने भी नोटों को सीधे नहीं उठाया । नोटों पर पहले ईंट रख दी गई, नोट वहां रखने वाले की तलाश की गई । इसी दौरान जब छानबीन चल रही थी तो नोटों को ढूढ़ता एक शख्‍स वहां पहुंच गया ।

एटीएम से निकाले थे पैसे

पुलिस ने मामले में बताया कि नोटों को लेकर फैली अफवाह लोगों का डर था, कोई साजिश नहीं । ये सभी नोट बुध विहार निवासी मृत्युंजय शर्मा के थे । शख्‍स ने एसबीआई के एटीएम से 20 हजार रुपये निकाले थे और जल्दबाजी में उसकी जेब से कुछ नोट सड़क पर गिर गए । शख्‍स जब घर पहुंचा और नोट गिने तो कम पाए जाने पर वापस उस जगह पर गया । शख्‍स ने जब पुलिस को एटीएम की रसीद दिखाई तब जाकर पुलिस ने उसे नोट थमाए ।