लॉकडाउन बढ़ाने पर मायावती बोलीं, सरकार के साथ हूं, जाति, धर्म व राजनीति से ऊपर उठकर गरीबों की हो मदद

लखनऊ। बसपा प्रमुख मायावती ने कहा क‍ि कोरोना महामारी से निपटने के लिए सरकार के हर फैसले का पार्टी स्वागत करेगी। सरकार के लॉकडाउन बढ़ाने के फैसले पर बीएसपी साथ है। इसके साथ ही मायावती ने केन्द्र व राज्य सरकारों से अपील की है कि वे इस राष्ट्रीय संकट की घड़ी में जाति, धर्म व दलगत राजनीति से ऊपर उठकर गरीबों की मदद करे।

मायावती ने शनि‍वाार को ट्वीट कर कहा कि कोरोना वायरस के घातक प्रकोप की वजह से देश में जारी 21-दिवसीय लॉकडाउन को, इसकी हर स्तर पर गहन समीक्षा करके व व्यापक जनहित का भी पूरा-पूरा ध्यान रखकर यदि केन्द्र सरकार इसे और आगे बढ़ाने का कोई फैसला लेती है तो बीएसपी इसका स्वागत करेगी।

लेकिन केन्द्र व राज्य सरकारों से भी अपील है कि वे इस राष्ट्रीय संकट की घड़ी में जाति, धर्म व दलगत राजनीति से ऊपर उठकर व कोई भी फैसला लेते समय खासकर गरीबों, कमजोर तबकों, मजदूरों व किसानों आदि के हितों व इनकी मदद का जरूर ध्यान रखें।

Mayawati

@Mayawati

1. कोरोना वायरस के घातक प्रकोप की वजह से देश में जारी 21-दिवसीय लाॅकडाउन को, इसकी हर स्तर पर गहन समीक्षा करके व व्यापक जनहित का भी पूरा-पूरा ध्यान रखकर यदि केन्द्र सरकार इसे और आगे बढ़ाने का कोई फैसला लेती है तो बी.एस.पी. इसका स्वागत करेगी।

1,542 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं

साथ ही, कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझने वाले सभी डाक्टरों, नर्सों, सफाई व पुलिसकर्मियों तथा अप्रत्यक्ष तौर पर ऐसी देशसेवा में लगे सभी लोगों के हर प्रकार के बचाव व पारिवारिक सुरक्षा आदि के लिए भी केन्द्र व राज्य सरकारों को काफी तत्पर दिखना चाहिये ताकि इनकी हौंसला अफजाई होती रहे।

Mayawati

@Mayawati

2. लेकिन केन्द्र व राज्य सरकारों से भी अपील है कि वे इस राष्ट्रीय संकट की घड़ी में जाति, धर्म व दलगत राजनीति से ऊपर उठकर व कोई भी फैसला लेते समय खासकर गरीबों, कमजोर तबकों, मजदूरों व किसानों आदि के हितों व इनकी मदद का जरूर ध्यान रखें।

Mayawati

@Mayawati

3. साथ ही, कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझने वाले सभी डाक्टरों, नर्सों, सफाई व पुलिसकर्मियों तथा अप्रत्यक्ष तौर पर ऐसी देशसेवा में लगे सभी लोगों के हर प्रकार के बचाव व पारिवारिक सुरक्षा आदि के लिए भी केन्द्र व राज्य सरकारों को काफी तत्पर दिखना चाहिये ताकि इनकी हौंसलाअफजाई होती रहे।

436 लोग इस बारे में बात कर रहे हैं