इस इंडियन बॉलर ने बैटिंग में किया है जो कमाल, वो सचिन, युवराज, रोहित भी नहीं कर सके

टीम इंडिया के खिलाड़ी न सिर्फ हिंदुस्तान में बल्कि पूरी दुनिया में अपने ज़बरदस्त प्रदर्शन के लिए जानें जाते हैं. भारतीय बल्लेबाज़ों ने कई बार विपक्षी गेंदबाज़ों की जमकर पिटाई की है, ऐसी पिटाई की है कि कुछ को तो सपनों में भी हमारे ही बल्लेबाज़ नज़र आते हैं. फिर चाहें वो शेन वार्न हों या जेम्स फॉकनर या फिर डेल स्टेन इनमें से शायद ही कोई ऐसा होगा जिसकी सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली या फिर रोहित शर्मा ने धुनाई न की हो.  यही वजह है कि हमारी टीम इंडिया के बेहतरीन बल्लेबाज़ों ने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए हैं.

लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारतीय क्रिकेट टीम के किस खिलाड़ी ने वनडे मैच में सबसे तेज अर्धशतक लगाकर ये रिकॉर्ड अपने नाम किया है. नहीं? तो चलिए आज की इस स्टोरी में हम आपको बताते हैं वनडे क्रिकेट में सबसे तेज हॉफ सेंचुरी लगाने वाले भारतीय खिलाड़ी का नाम.

टीम इंडिया के पूर्व फास्ट बॉलर अजीत अगरकर (Ajit Agarkar) जिन्होंने अपनी तेज़ गेंदबाज़ी से दुनिया भर के तमाम बल्लेबाज़ों के होश उड़ा रखे थे उन्होंने मजह 22 साल की उम्र में वनडे क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया था. इस रिकॉर्ड को आज तक भी कोई भारतीय तोड़ नहीं पाया है. अजीत अगरकर भले ही इंडियन क्रिकेट में एक तेज गेंदबाज़ के रुप में खेलते थे मगर अपनी बल्लेबाज़ी से उन्होंने हर किसी को हैरान कर दिया.

ये बात है 14 दिसंबर 2000 की जब भारत और जिम्बाम्बे के बीच वनडे मैच खेला जा रहा था. उस मैच में अजीत 8वें नंबर पर बल्लेबाज़ी करने फील्ड पर उतरे, जहां उन्होंने ऐसी बल्लेबाज़ी की, कि ऐसा लगा जैसे कोई तूफान आ गया हो. अजीत ने महज 25 गेंदों में 7 चौके और 4 छक्के लगाकर 67 रन बनाए. उस मैच में अजीत ने सिर्फ 21 बॉल पर ही अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था जो किसी भी भारतीय खिलाड़ी द्वारा बनाया गया अब तक का सबसे तेज अर्धशतक रहा और आज भी अजीत अगरकर का ये रिकॉर्ड कोई भी भारतीय क्रिकेटर तोड़ नहीं पाया है.

सबसे तेज अर्धशतक बनाने के अलावा अजीत अगरकर ने सबसे तेज़ 50 विकेट लेने का रिकॉर्ड भी अपने नाम दर्ज करवाया है, अजीत ने सिर्फ 23 मैचों में ही 50 विकेट झटक लिए थे और सबसे तेज 50 विकेट लेने वाले गेंदबाज़ बन गए और उनका ये रिकॉर्ड भी आज तक कोई भारतीय खिलाड़ी तोड़ नहीं पाया है. अजीत अगरकर के नाम सिर्फ यही एक रिकॉर्ड नहीं है. इसके अलावा अजीत ने सबसे तेज़ 200 विकेट और 1000 रन बनाने का रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है.

इतना ही नहीं वनडे क्रिकेट में 191 मैच में 288 विकेट और टेस्ट क्रिकेट में अजीत ने 26 मैचों में 58 विकेट अपने नाम किए हैं. वहीं हम बात करें वनडे क्रिकेट में सबसे तेज अर्धशतक बनाने वाले भारतीय खिलाड़ियों की तो युवराज सिंह, वीरेन्द्र सहवाग, राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) और कपिल देव का नाम भी इस लिस्ट में शामिल है, इन सभी ने 22 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया था. अजीत अगर ने महज 23 वनडे मैचों में 50 विकेट का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था. उनका ये रिकॉर्ड श्रीलंका के अजंता मेंडिस ने 19 मैच खेलकर तोड़ दिया था.