CSK टीम के पूर्व क्रिकेटर आज भी हैं धोनी के मुरीद, तारीफ में कही ये बात

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज माइकल हसी (Michael Hussey) जो अपने ज़माने में खुद एक अच्छे फिनिशर माने जाते थे,  उनका मानना है कि फिनिशिंग की कला में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) जैसा कोई नहीं है. धोनी का आत्मविश्वास, बाहुबल और प्रेजेंस ऑफ माइंड बेजोड़ है क्योंकि वो जानते हैं कि कब गेंदबाज़ पर दबाव बनाना है, कब सिंगल और डबल लेते हुए पारी को आगे बढ़ाना है और कब अंतिम प्रहार करना है. हसी ने एक लाइव चैट के दौरान संजय मांजरेकर से कहा, “धोनी क्रिकेट जगत में अब तक के बेस्ट फिनिशर हैं.”

उन्होंने कहा कि, “धोनी शांत बने रहते हैं और विरोधी टीम के कप्तान को मौका देते हैं. धोनी के पास अविश्वसनीय ताकत है. वह जानते हैं कि कब उन्हें गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाना है. उनके पास इस तरह का आत्मविश्वास है. ईमानदारी से, मुझे अपने आप पर इस तरह का विश्वास नहीं था.” धोनी की तारीफ करते हुए हसी ने यह भी बताया कि, “वो लंबे समय तक हार को दिमाग में नहीं बिठाए रखते. अगर वे हारते हैं तो उसे पीछे छोड़कर तुरंत आगे के बारे में सोचते हैं. वो हार या जीत को खुद पर हावी नहीं होने देते हैं. वे हमेशा एक जैसे बने रहते हैं.”

हसी, जिन्होनें आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के लिए खेलते हुए धोनी के साथ काफी वक्त गुज़ारा है ने माना कि मैच को सही ढंग से समाप्त करने की कला उन्होनें माही से ही सीखी है. हसी ने कहा कि, “मैंने धोनी से सीखा है कि कैसे मैच फिनिश करते हैं. वो अविश्वसनीय हैं. उनका मानना है कि जो आखिरी बाजी को जीतता है, वही मैच भी जीतता है. इसलिए धोनी अपने को शांत करते हैं और इसे लंबे समय तक रखते हैं, क्योंकि दबाव गेंदबाज पर भी होता है.”

इसमें तो कोई दो राय नहीं कि धोनी इस युग के ही नहीं, आज तक के बेस्ट फिनिशर हैं. कहते हैं क्रिकेट में आंकड़े ही सब कुछ बोलते हैं और अगर आंकड़ों की मानें तो धोनी जैसा फिनिशर आज तक नहीं हुआ. कुल मिलाकर धोनी ने अपने करियर के दौरान टीम इंड़िया को 112 बार स्कोर चेज़ करते हुए जीत दिलाई है जिसमें उन्होनें 91 से ज्यादा की औसत से 2556 रन बनाए हैं. इतना ही नहीं धोनी क्रिकेट इतिहास में वो इकलौते बल्लेबाज़ हैं जिन्होनें कम से कम 9 बार छक्का मारकर मैच को फिनिश किया है. इसके अलावा धोनी नंबर 6 पर बैटिंग करते हुए 4000 से ज्यादा रन बनाने वाले अकेले बैट्समैन हैं.