रोहिंग्या-जमात कनेक्शन से बढ़ा संकट, जम्मू में रोहिंग्या का कैंप कोरोना हॉटस्पॉट घोषित

जम्मू। रोहिंग्या और जमात के आपसी रिश्तों का खुलासा होने के बाद जम्मू के जिस इलाके में रोहिंग्या रहते हैं, उस पूरे इलाके में प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है. लगभग 1 लाख की आवादी बाले भठिंडी-सुंजवा इलाके को हॉटस्पॉट घोषित किया जा चुका है.

इस इलाके को पूरी तरह से सील कर आने-जाने पर पाबंदी लगा दी गई है. इलाके की लंबाई चौड़ाई को देखते हुए ड्रोन से भी नजर रखी जा रही है. कुछ दिन पहले इसी इलाके की रोहिंग्या मस्जिद से 10 रोहिंग्या मुसलमानों को प्रशासन ने बरामद कर क्वारंटीन सेंटर भेजा था.

जमात से ताल्लुक रखने वाले ये रोहिंगया तबलीगी जमात के हैदराबाद, निजामुद्दीन और ह​रियाणा मरकजों की मजलिसों में हिस्सा लेकर जम्मू आए थे. इनमें से 2 हैदराबाद के रोहिंग्या थे. ये लोग जम्मू के भठिंडी इलाके में ठिकाने बदल-बदल कर रह रहे थे.

इसके कुछ दिन बाद ही भठिंडी की फिरदौसाबाद मस्जिद से प्रशासन ने जमात के 22 लोगों को बरामद किया जिनमें 9 कोरोना पॉजिटिव पाए गए. रोहिंग्या और जमात की नजदीकियां इसलिए भी देखी जा रही है क्योंकि जम्मू में रोहिंग्या मदरसों को तबलीगी जमात के लोग ही फंड करते हैं.