बोलती आंखों वाला वो सुपरस्टार जिसने बॉलीवुड ही नहीं हॉलीवुड में भी मचाई धूम

अपनी एक्टिंग से लोगों को कायल देने वाले सुपरस्टार एक्टर इरफान खान ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है. 54 वर्षीय इरफान की हालत पिछले काफी वक्त से ठीक नहीं थी. इरफान का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में कुछ दिन से इलाज चल रहा था. बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपनी एक्टिंग का जादू चलाने वाले इस एक्टर को उसकी एक्टिंग और नेचर के अलावा उसकी सम्मोहित कर देने वाली आंखों के लिए भी याद किया जाएगा. 1998 में फिल्म सलाम बॉम्बे से करियर शुरू करने वाले इस एक्टर के बारे में किसी ने नहीं सोचा था कि वो हॉलीवुड तक को अपनी एक्टिंग का दीवाना बना देगा.

हिंदी सिनेमा की बात करें तो इरफान ने हर तरह के किरदार निभाए हैं. वह शॉर्ट फिल्मों में नजर आए हैं तो उन्होंने सुपरस्टार्स के साथ भी काम किया है. उन्होंने छोटी फिल्मों में चुनौतीपूर्ण रोल किए हैं तो उन्होंने बड़ी फिल्मों में छोटे रोल भी किए हैं. इरफान अपने किरदार का चुनाव करते वक्त ये नहीं सोचते थे कि ये रोल बड़ा है या छोटा. उनके हिसाब से बस वो रोल अच्छा और उनके लिए चुनौतीपूर्ण होना चाहिए था. इरफान की यही अदा हॉलीवुड को भी उनका दीवाना बना गई.

इरफान साल 2007 में फिल्म A Mighty Heart में काम करते नजर आए थे. फिल्म में उनका किरदार जीशान काजमी का था. जीशान जो कि कराची पुलिस का चीफ है. कहने को ये बहुत बड़ी उपलब्धि नहीं थी लेकिन एक बार जो इरफान ने हॉलीवुड में कदम जमाया तो वो धीरे-धीरे पश्चिमी सिनेमा में काबिज होने लगे. स्लमडॉग मिलियनर में इरफान एक पुलिस अफसर का किरदार निभाते नजर आए तो लाइफ ऑफ पाई में उन्होंने वयस्क पाई का किरदार निभाया.

इनफर्नो में उन्होंने बड़ी भूमिका निभाई तो जुरासिक वर्ल्ड में एक वैज्ञानिक के तौर पर उन्होंने अपना जादू दिखाया. इरफान खान के साथ काम करने वाले निर्देशक उनके बारे में कहते हैं कि उनके साथ काम करना किसी अच्छे दोस्त के साथ काम करने जैसा होता था. वह जिंदादिल किरदारों को जितनी खूबसूरती से पर्दे पर उतारते थे उतनी ही खूबसूरती से मायूज किरदारों को भी जिंदा कर देते थे. उनके गुजर जाने के बाद पूरे बॉलीवुड में शोक की लहर है.