इरफान खान ने नाम में जोड़ा था एक्स्ट्रा R, क्या था न्यूमेरोलॉजी कनेक्शन?

दिग्गज एक्टर इरफान खान का मुंबई के कोकिलाबेन अस्पताल में निधन हो गया है. इरफान खान का यूं अचानक चले जाना फिल्म जगत के साथ तमाम फैंस के लिए शॉकिंग हैं. महज 54 साल की उम्र में इरफान खान दुनिया को अलविदा कह गए. इरफान खान ने अपने करियर में एक से बढ़कर एक रोल किए थे. गंभीर रोल हो या कॉमेडी, इरफान ने हर रोल बखूबी निभाया. इरफान ने वर्ल्ड सिनेमा में जबरदस्त योगदान दिया था.

कम ही लोगों को मालूम है कि इरफान खान का पूरा नाम साहबजादे इरफान अली खान (Sahabzade Irfan Ali Khan) था. वे रॉयल फैमिली से ताल्लुक रखते थे. इरफान को अपना इतना लंबा नाम पसंद नहीं था. इसलिए उन्होंने अपने नाम में बदलाव किया. उन्होंने साहबजादे को हटा दिया और इरफान की स्पेलिंग में एक्स्ट्रा R जोड़ दिया. जिसके बाद उनके नाम की स्पेलिंग Irrfan हो गई. इरफान को अपने नाम में एक्स्ट्रा R का साउंड काफी पसंद था. इसलिए नाम में R जोड़ने के पीछे न्यूमेरोलॉजी से कनेक्शन नहीं था.

पहली फिल्म से छा गए थे इरफान खान

इरफान खान के करियर की बात करें तो उनकी पहली फिल्म सलाम बॉम्बे थी. जो कि साल 1988 में रिलीज हुई थी. वैसे उन्होंने अपना करियर टीवी से शुरू किया था. पहली फिल्म में ही इरफान खान ने अपनी एक्टिंग का लोहा मनवा लिया था. मीरा नायर के निर्देशन में बनी इस फिल्म इरफान खान ने लेटर राइटर का रोल अदा किया था. मालूम हो, सलाम बॉम्बे को एकेडमी अवॉर्ड में बेस्ट फॉरेन लैंग्वेज फिल्म के लिए नॉमिनेशन मिला था. देश विदेश में सलाम बॉम्बे को कई सारे अवॉर्ड मिले थे.