RSS ने तुर्की दौरे को लेकर आमिर खान जमकर लताड़ा, पढ़ाया भारतीयता का पाठ

बॉलीवुड के सीनियर एक्‍टर आमिर खान का हालिया तुर्की दौरा जमकर विवादों में रहा । एक्‍टर को सोशल मीडिया पर धो-धोकर ट्रोल किया गया । उन्‍हें देशभक्ति का पाठ पढ़ाने से लेकर उनकी नागरिकता तक पर सवाल उठा दिए गए । लेकिन इस मामले ने नया रूप ले लिया है । आमिर के तुर्की दौरे को लेकर आरएसएस ने आपत्ति जताई है । सीधे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ  ने उन पर निशाना साधा है ।

भारतीय भावनाओं को ठेस

आरएसएस के मुखपत्र पांचजन्य में एक आर्टिकल लिखा गया है, जिसका केन्‍द्र है आमिर खान और उनका तुर्की दौरा । इस आर्टिकल में आरएसएस ने कहा है कि आमिर खान ने तुर्की जाकर भारतवासियों की भावनाओं को ठेंगा दिखाया है । आरएसएस की ओर से आमिर खान को लेकर ढेरो सवाल दागे गए हैं । पांचजन्य में आगे लिखा है –  ‘’जिस तरह आमिर खान तुर्की जाकर एक तरह से भारतवासियों की भावनाओं को ठेंगा दिखा रहे हैं, उसे समझने की जरूरत है । एक तरफ तो वह खुद को ‘सेक्युलर’ कहते हैं, पर दूसरी तरफ यही आमिर इस्राइल के प्रधानमंत्री के भारत आने पर उनसे मिलने से मना करते हैं।’’

कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का साथ देता है तुर्की

दरअसल RSS और देशवासियों को इस बात पर कड़ी आपत्ति है कि तुर्की जैसा देश जो कश्‍मीर के मुद्दे पर पाकिस्‍तान के साथ खड़ा है, उसके साथ आमिर का आना कितना सही माना जा सकता है । पांचजन्य में आरएसएस ने आगे लिखा है –  ‘’अगर आमिर खुद को इतना ही सेक्युलर मानते हैं तो उस तुर्की जाकर शूटिंग करने की क्यों सोच रहे हैं, जो जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान का समर्थन करता रहा है ।’

2018 में आमिर ने किया था ऐसा काम

दरअसल साल 2018 में जब इजरायल के प्रधानमंत्री भारत आए थे तो आमिर ने न्‍यौता मिलने के बावजूद उनसे मुलाकात नहीं की थी । जबकि बेंजामिन नेतन्‍याहू भारत के करीबी दोस्‍त माने जाते हैं । उनके दौरे के दौरान ही एक ऐसे कार्यक्रम का आयोजन किया गया था जिसमें उन्‍हें भारतीय कलाकारों से मुलाकात करनी थी, यहीं आमिर को भी न्‍यज्ञैता भेजा गया था । लेकिन वो यहां नहीं पहुंचे । और अब वो तुर्की जा पहुंचे हैं । इस्तांबुल में आमिर खान तुर्की के राष्ट्रपति की पत्नी से मिले थे ।

फिल्‍म की शूटिंग करना चाहते हैं आमिर …
दरअसल आमिर खान का ये तुर्की दौरा उनकी फिल्‍म लाल सिंह चड्ढा को लेकर था, वो इस फिल्‍म की शूटिंग उस देश में करना चाहते थे । 15 अगस्त की रात को तुर्की की पहली महिला यानि राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन की पत्नि एमीन एर्दोगन की ओर से ट्विटर पर कई तस्वीरें शेयर की थी, जिनमें वो राजधानी इस्तांबुल में आमिर खान के साथ बातचीत करती हुईं नजर आईं । उन्‍होने ही ये लिखा था कि उन्‍हें खुशी हैं कि आमिर खान अपनी फिल्म की शूटिंग तुर्की के अलग-अलग इलाकों में करना चाहते हैं । बस इसी ट्वीट के बाद से आमिर सोशल मीडिया पर सबके निशाने पर आ गए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *