मंदिर में लाउडस्पीकर पर बवाल: 5 दिन में तीसरी घटना, पहले मार-पीट… अब परिणाम भुगतने की धमकी, एक्शन में UP पुलिस

रामपुर। उत्तर प्रदेश के रामपुर स्थित केमरी के सिघड़ियान मोहल्ले में मंदिर में लाउडस्पीकर बजाने को लेकर विवाद हो गया। इससे उत्पन्न हुए तनाव के बाद दो समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए, जिसके बाद पुलिस को हस्तक्षेप कर के मामला शांत कराना पड़ा। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुँच कर पूरे मामले को शांत कराया। मंदिर में लाउडस्पीकर को लेकर हुए विवाद के बाद उत्पन्न हुए तनाव के सम्बन्ध में 3 लोगों का चालान किया गया है।

इन तीनों पर इलाक़े की शांति भंग करने का आरोप लगाया गया है। ये घटना मोहल्ले के वार्ड नंबर-3 में स्थित एक शिव मंदिर का है, जो वर्षों पुराना है। इस मंदिर में शाम के समय अक्सर लोग जुटते थे और भजन-कीर्तन हुआ करता था। इसके लिए लाउडस्पीकर का भी प्रयोग किया जाता था। लेकिन, कोरोना संक्रमण आपदा के कारण लगाए गए लॉकडाउन के बाद सरकारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए लाउडस्पीकर का इस्तेमाल बंद कर दिया गया था।

कुछ दिनों पहले सरकार ने मंदिर में चुनिंदा लोगों को सोशल डिस्टेंडिंग का पालन करते हुए भजन-कीर्तन करने की अनुमति दे दी, जिसेक बाद ये क्रम फिर से शुरू हो गया। तभी समुदाय विशेष के कुछ युवक सड़क पर आकर हंगामा करने लगे। उन्होंने भजन-कीर्तन कर रहे श्रद्धालुओं को भला-बुरा कहना शुरू कर दिया। उन्होंने दावा किया कि मंदिर में लाउडस्पीकर तेज़ आवाज़ में बज रहा है और इसे लेकर हंगामा शुरू कर दिया।

चूँकि रामपुर के उस शिव मंदिर में पहले से ही इसी तरह से भजन-कीर्तन होता आ रहा था, इसीलिए श्रद्धालुओं ने लाउडस्पीकर बंद करने से इनकार कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच तनाव बढ़ने लगा। वहाँ मौके पर सूचना मिलने के बाद पहुँची पुलिस ने तीन व्यक्तियों शाहिद हुसैन, मुहम्मद आसिफ व नावेद अली को गिरफ्तार करने के बाद स्थानीय शांति भंग करने के आरोप में उनका चालान भी काट दिया। पुलिस ने दोनों ही पक्षों से वार्ता की और उन्हें समझा-बुझा कर मामला शांत कराया।

मंदिर के लाउडस्पीकर से दिक्कत, बस जगह अलग

उन्नाव के माखी थाना क्षेत्र स्थित एक गाँव में भी ऐसी ही घटना हुई, जहाँ महादेव मंदिर में आरती के दौरान ही एक युवक ने पहुँच कर हंगामा शुरू कर दिया और कहने लगा कि उसे लाउडस्पीकर की वजह से मोबाइल पर बात करने में परेशानी हो रही है। इस मामले में एक ग्रामीण ने मुन्ना, जमील और रहीस नामक युवकों के खिलाफ तहरीर दी है।

इन सभी युवकों ने न सिर्फ गाली-गलौज किया, बल्कि मंदिर में लाउडस्पीकर बजाने पर परिणाम भुगतने की चेतावनी तक दी। इसके बाद वहाँ बड़ी संख्या में लोग पहुँच गए। सूचना मिलने के बाद पहुँची पुलिस ने तीनों युवकों को हिरासत में ले लिया। अभियोग पंजीकृत कर के तीनों आरोपितों से पूछताछ जारी है और गाँव में स्थिति नियंत्रण में है, ऐसा पुलिस ने बताया है। स्थानीय लोग इस घटना को लेकर अभी भी आक्रोश में हैं।

हाल ही में उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर स्थित एक गाँव में मंदिर के भीतर लाउडस्पीकर बजाने की वजह से कुछ युवकों ने स्वराज सिंह को बुरी तरह पीट दिया था। मारपीट करने वाले गुलज़ार, अफज़ल, शराफ़ समेत कुछ अन्य लोग थे। पुलिस द्वारा इस मामले में 3 आरोपितों को गिरफ्तार किए जाने की खबर आई थी। स्वराज सिंह ने बताया था कि कुछ युवक मौके पर लाठी और डंडे लेकर आए और उन्होंने बेटी के सामने खूब पीटा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *