यूपी : गोकशी केस में दो दारोगा समेत आठ पुलिसकर्मी लाइन हाजिर, सभी हो सकते हैं सस्पेंड

बिजनौर/लखनऊ। यूपी के बिजनौर में गोकशी कांड में दो दरोगा समेत आठ पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है। इतना ही नहीं सभी के ऊपर निलंबन की तलवार भी लटकी हुई है, किरतपुर पालिका अध्यक्ष अब्दुल मन्नान के घेर में हो रही गोकशी में सूचना संकलन के लिए पुलिसकर्मियों को लापरवाह मानते हुए एसपी ने कार्रवाई करते हुए जांच बैठाई है।

शुक्रवार देर रात एसपी डॉ. धर्मवीर सिंह ने लापरवाही बरतने, कर्तव्य का पालन न करने, अभिसूचना संकलन में विफल रहने कारण आठ पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया। किरतपुर से नरेशपाल कस्बा इंचार्ज, एसआई इरशाद अली, कास्टेबल संदीप, प्रवेश, योगेश, अमित, जितेन्द्र, पंकज को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर जांच शुरू कर दी गई है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को सपा नेता और किरतपुर नगर पालिकाध्यक्ष के घेर में किरतपुर, नांगल व नजीबाबाद पुलिस ने सीओ नजीबाबाद के नेतृत्व में छापेमारी कर गोकशी पकड़ी थी। पुलिस ने मौके से मोहम्मद हारून, तारिक, ताजिर, तालिब, मोहम्मद आमिर व मोहम्मद शानू को चेयरमैन किरतपुर अब्दुल मन्नान के बाग से 12 जीवित पशु (गाय-भैंस), गोवंश अवशेष, गोकशी के उपकरण तथा अवैध असलाह सहित गिरफ्तार किया था। वहीं, पालिकाध्यक्ष समेत चार आरोपी फरार हो गए थे। पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह ने बताया कि दो दरोगा समेत आठ पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया गया है। जांच में दोषी पाए जाने पर सभी को निलंबित किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *