हाथरस कांड: पीड़िता के भाई ने पूछा- हमने क्या जुर्म किया था जो डीएम ने हमसे इतनी बदतमीजी की?

हाथरस/लखनऊ। हाथरस गैंगरेप केस को लेकर जिलाधिकारी प्रवीण कुमार सवालों के घेरे में हैं. उनपर कभी भी गाज गिर सकती है. पीड़िता का परिवार डीएम पर धमकाने और दबाव डालने का आरोप लगा चुका है. इस बीच, पीड़िता के भाई ने कहा है कि हमने कौन सा जुर्म किया है जो हमारे साथ इतनी ज्यादा बदतमीजी हो रही है. इतनी ज्यादा बदसलूकी हमारे साथ क्यों हो रही है. उन्होंने डीएम को हटाए जाने की भी मांग की है.

वहीं, हाथरस कांड की जांच की जिम्मेदारी अब सीबीआई के हवाले है. आजतक से बातचीत में पीड़िता के भाई ने कहा कि हम सीबीआई से जांच नहीं चाहते हैं. हम न्यायिक जांच की मांग कर रहे हैं. हम चाह रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट के जज की निगरानी में जांच हो.

उन्होंने कहा कि हमारे सवालों के जवाब नहीं मिले हैं. जांच आप जिससे चाहें उससे करा लें. सीबीआई की जांच भी अच्छी है. लेकिन हम चाह रहे हैं कि सुप्रीम कोर्ट के जज की निगरानी में जांच हो. जो भी जांच करे अच्छे से करे. हम खुश तब ही होंगे जब हमारे सवालों के जवाब मिलेंगे.

पीड़िता के भाई ने कहा कि बिना हमारी मर्जी के शव को लाया गया. शव को दिखा तो देते एक बार. शव को पेट्रोल से क्यों जलाया. इतनी बुरी तरह से अंतिम संस्कार किया गया.

उन्होंने कहा कि डीएम ने हम लोगों के साथ बदसलूकी की है. उन्होंने ऐसा क्यों किया. हमने कौन सा जुर्म किया है जो हमारे साथ इतनी ज्यादा बदतमीजी हो रही है. इतनी ज्यादा बदसलूकी हमारे साथ क्यों हो रही है. यहां के डीएम को हटाया जाए. डीएम को लेकर राहुल और प्रियंका गांधी से हमारी बात हुई है. बता दें कि राहुल गांधी और प्रियंका गांधी शनिवार को पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे थे. कांग्रेस के नेताओं ने करीब एक घंटे परिवार से बात की.

पीड़िता के भाई आगे कहते हैं कि प्रियंका और राहुल गांधी ने हमें सुना और समझा. हम लोगों के साथ जो कुछ भी हुआ हमने उनको बताया. उन्होंने हमें आश्वासन दिया कि कोई भी मदद चाहिए हो तो बताना.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *