J-K: तीन जवानों की शहादत का भारत ने लिया बदला, 7 पाकिस्तानी सैनिक मारे, बंकर उड़ाए

पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी की गई है.पाकिस्तान की ओर से सीमा पर शुक्रवार को भी गोलीबारी की गई. नॉर्थ कश्मीर में एलओसी से सटे तीन सेक्टरों में पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया. इस गोलाबारी में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए हैं. शहीद हुए जवानों में एक बीएसएफ एसआई और दो जवान शामिल हैं. वहीं अंधाधुंध फायरिंग में तीन आम नागरिकों की भी मौत हुई है.

भारतीय सेना ने भी जमकर जवाब दिया है. भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक जवाबी कार्रवाई में भारत ने पाकिस्तान के सात जवान मार गिराए हैं. मारे गए पाकिस्तानी जवानों में 2-3 एसएसजी कमांडर भी शामिल हैं. भारतीय सेना के मुताबिक पाकिस्तान की तरफ से उकसावे की हरकत की शुरुआत की गई. पाकिस्तान ने उरी से लेकर गुरेज तक के क्षेत्रों में सीजफायर का उल्लंघन किया जिसका मुंहतोड़ जवाब भारतीय सेना दे रही है. भारतीय सेना ने पाकिस्तान के बंकर भी तबाह किए हैं.

बताया जा रहा है पाकिस्तान की तरफ से किए गए सीजफायर उल्लंघन में पहले बीएसएफ एसआई राकेश डोवाल शहीद हुए इसके बाद सेना के दो अन्य जवान भी इस गोलाबारी में मारे गए. वहीं, तीन आम नागरिकों के मारे जाने की भी खबर है. एक अन्य नागरिक की हालत गंभीर बताई जा रही है. उधर पुंछ में भी सेना के दो जवान और पांच आम नागरिक घायल हुए हैं. पाकिस्तान की तरफ से किए गए सीजफायर में पुंछ इलाके में कुल सात लोग घायल हुए हैं.

इस घटना पर पीपुल्स कांग्रेस के नेता सज्जाद लोन ने चिंता जाहिर की है. उन्होंने कहा कि, पुंछ उरी और टंगडार (कुपवाड़ा) में गोलाबारी में निर्दोषों की जान चली गई है. इस घटना की निंदा करने के लिए सिर्फ शब्द ही काफी नहीं हैं. उम्मीद है कि प्रशासन घायल परिवारों को मदद मुहैया कराएगा. मेरी संवेदना इन इलाके के लोगों के साथ है.

पाकिस्तान की ओर से बारामूला जिले के हाजीपीर इलाके में गोलीबारी की गई, इसके अलावा तंगधार सेक्टर और गुरेज सेक्टर में भी पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया. इस दौरान पाकिस्तानी सेना ने गोलीबारी की, मोर्टार दागे. भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया. पाकिस्तान की फायरिंग में सीमा के पास बसे एक घर को नुकसान पहुंचा है, जबकि एक महिला भी घायल हो गई है.

पाकिस्तान द्वारा की गई गोलीबारी के बाद सीमा से सटे गांवों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया. गुरेज, तंगधार से कुछ लोगों को हटाया भी गया है. गौरतलब है कि हाल ही में भारतीय सेना ने पाकिस्तान की एक बड़ी साजिश को नाकाम किया था. पाकिस्तानी सेना लगातार एलओसी पर गोलीबारी के बहाने आतंकियों की घुसपैठ कराने की कोशिश में रहती है.

7-8 नवंबर की रात को माछिल सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से कुछ घुसपैठिए इस ओर आने की कोशिश कर रहे थे, भारतीय सेना ने इस कोशिश को नाकाम किया और तीन आतंकियों को ढेर कर दिया.

पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने उसके 8 जवानों को ढेर कर बंकर तबाह कर दिए हैं।

जम्मू-कश्मीर के बारामूला सेक्टर के उरी में पाकिस्तान ने शुक्रवार (13 नवंबर) को सीजफायर का उल्लंघन किया। इसमें 1 बीएसएफ जवान, 2 सैनिक और 3 नागरिकों की जान चली गई। पत्रकार आदित्य राज कौल ने इस संबंध में ट्वीट कर जानकारी दी है। उनका कहना है कि उन्हें घटनास्थल से जो तस्वीरें मिली हैं वह बेहद बर्बर हैं।

उन्होंने मृतकों की कुल संख्या 6 बताते हुए इनके नाम बताए हैं। ट्वीट के मुताबिक बीएसएफ जवान राकेश डोभाल, आर्मी के जनरल सुबोध घोष और जनरल हर्षवर्धन चंद्र रॉय वीरगति को प्राप्त हुए हैं। वहीं इरशाद अहमद, तौब मीर और फारूका बेगम नामक तीन नागरिकों की भी इस हमले में मौत हुई।

बताया जा रहा है पाकिस्तान के नापाक इरादों के ख़िलाफ़ जवाबी कार्रवाई में भारत ने भी उनके 7-8 जवानों को ढेर किया है। वहीं उनके कई बंकर भी नष्ट कर दिए गए हैं और लॉन्च पैड पर भी हमला बोला है। मारे गए पाकिस्तानी सेना के सैनिकों की सूची में 2-3 पाकिस्तानी सेना विशेष सेवा समूह (एसएसजी) कमांडो शामिल हैं।

समाचार एजेंसी ANI की रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय सेना की कार्रवाई में पाकिस्तानी सेना को भारी नुकसान झेलना पड़ा है। पाकिस्तानी सेना के बंकर, ईंधन डंप और लॉन्च पैड नष्ट हो गए हैं।

वहीं बीएसएफ की ओर से जानकारी दी गई है कि जम्मू-कश्मीर के बारामूला सेक्टर में सीजफायर वायलेशन में BSF के सब-इंस्पेक्टर राकेश डोभाल वीरगति को प्राप्त हो गए। उन्होंने बताया कि BSF के सब इंस्पेक्टर राकेश डोभाल उत्तराखंड के ऋषिकेश जिले के गंगानगर के रहने वाले थे।

उड़ी के कमलकोट के अलावा बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर और कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में भी सीजफायर उल्लंघन हुआ। इस बीच सेना ने घुसपैठ को देखते हुए घाटी के कई इलाकों में इंटरनेट सेवाएँ बंद कर दी हैं।

सेना की ओर से कहा गया, “हमारे सैनिकों ने शुक्रवार को केरन सेक्टर में एलओसी पर आगे की चौकियों पर संदिग्ध हरकत देखी थी। इसके बाद संदिग्ध घुसपैठ को नाकाम कर दिया गया। मोर्टार और अन्य हथियार से लैस इन लोगों ने गोलीबारी करके सीजफायर का उल्लंघन किया। हम भी जवाबी कार्रवाई कर रहे हैं।”

बता दें कि मात्र 1 हफ्ते में पाकिस्तान की ओर से दूसरी दफा सीजफायर उल्लंघन किया गया है। भारतीय सुरक्षाबल लगातार पाकिस्तानी सेना के घुसपैठ के मनसूबों को नाकाम कर रहे हैं। शुक्रवार को इसी बौखलाहट में उत्तरी कश्मीर में जिला कुपवाड़ा में टंगडार व करनाह सेक्टर के धानी, सदपोरा, हाजीतारा और जद्दा चौकियों व उनके आसपास स्थित नागरिक बस्तियों पर गोलाबारी की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *