कुणाल कामरा ने कहा, न ट्वीट हटाऊंगा और न ही माफी मांगूंगा, कामेडियन ने सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ की थी टिप्पणियां

नई दिल्ली। स्टैंडअप कामेडियन कुणाल कामरा ने सुप्रीम कोर्ट के खिलाफ अपने विवादित ट्वीट को हटाने या उनके लिए माफी मांगने से शुक्रवार को इन्कार कर दिया। कामरा का यह बयान अटार्नी जनरल केके वेणुगोपाल द्वारा उनके खिलाफ आपराधिक अवमानना की कार्यवाही शुरू करने की अनुमति दिए जाने के एक दिन बाद आया है। रिपब्लिक टीवी के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट द्वारा अंतरिम जमानत दिए जाने के बाद कामरा ने सिलसिलेवार कई ट्वीट किए थे।

कामरा ने अपने ट्विटर पेज पर वेणुगोपाल और न्यायाधीशों को संबोधित बयान में कहा, ‘हाल ही में मैंने जो ट्वीट किए उन्हें अदालत की अवमानना की तरह माना गया है। मैंने जो ट्वीट किए वे अदालत द्वारा प्राइम टाइम के लाउडस्पीकर के पक्ष में दिए गए अंतरिम फैसले के बारे में थे।’

उन्होंने कहा, ‘मेरा दृष्टिकोण नहीं बदला है क्योंकि दूसरों की निजी स्वतंत्रता के मामलों पर सुप्रीम कोर्ट की खामोशी आलोचना के दायरे से बाहर नहीं रह सकती। अपने ट्वीट हटाने या उनके लिए माफी मांगने का मेरा कोई इरादा नहीं है। मेरा मानना है कि वे अपने लिए बोलते हैं।’ इस साल की शुरुआत में इंडिगो की एक उड़ान में गोस्वामी से नोकझोंक के कारण कामरा पर कई विमान कंपनियों ने प्रतिबंध लगा दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *