कंगना को धमकी देने वाला शिवसेना विधायक फंसा है मनी लॉन्ड्रिंग के घपले में, ईडी ने मारा 10 ठिकानों पर छापा

मुंबई। शिवसेना के बड़बोले विधायक प्रताप सरनाईक के घर और दफ्तर पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने छापेमारी की है। ई़डी ने यह छापेमारी मुंबई और ठाणे के 10 ठिकानों पर की है। ओवला-मजीवाड़ा से विधानसभा सदस्य सरनाईक पर वित्तीय अनियमितता का आरोप है। बताया जा रहा है कि छापेमारी मनी लॉन्ड्रिंग से संबंधित धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत की गई है। ईडी ने सरनाईक के बेटे विहांग सरनाईक को ठाणे स्थित उनके आवास से हिरासत में ले लिया है।

ठाकरे सरकार में कैबिनेट मंत्री प्रताप सरनाईक खुद एक रियल एस्टेट डेवलपर भी हैं। वह मीरा भायंदर, शिवसेना की कम्युनिकेशन लीडर भी हैं। विहान ग्रुप ऑफ कंपनीज के अलावा ठाणे में उनके कई व्यवसाय हैं। बताया जा रहा है कि ईडी को इस बात का शक है कि प्रताप सरनाईक और टॉप्स सिक्योरिटी एजेंसी के बीच में हुए आर्थिक लेनदेन में कुछ घोटाला हुआ है। शिवसेना नेता सरनाईक पर माफिया और कॉन्ट्रैक्टर से पैसे लेने के आरोप लगते रहे हैं।

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद मुंबई की तुलना पीओके से करने पर प्रताप सरनाईक ने कंगना रनौत को खुलेआम मुंह तोड़ने की धमकी दी थी। उन्होंने मराठी में किए ट्वीट में लिखा था कि अगर कंगना यहां आती है, तो हमारे योद्धा उसका मुंह तोड़ देंगे। मैं गृहमंत्री से अनुरोध करता हूं कि वह कंगना रनौत के खिलाफ मुंबई को पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) बताने के लिए राजद्रोह का मुकदमा दर्ज करे।

कंगना रनौत के मुंबई आकर शिमला वापस चले जाने पर भी शिवसेना नेता ने विवादित ट्वीट किया था। उन्होंने मराठी में लिखा था कि कुतिया की पूंछ नली में डाली फिर भी टेढ़ी ही रहेगी। इस कहावत का मतलब आज सीधे समझ आया, जिन लोगों ने शिवसेना को मुश्किल में लाने के लिए एक सप्ताह तक कंगना समर्थन किया, उन सभी का मुंह काला करके वो आज चली गईं। अब चिल्लाओ,जय महाराष्ट्र।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *