1 जनवरी से बदल जाएगा आपके डेबिट-क्रेडिट कार्ड से जुड़ा ये नियम, जान लीजिए

2021 के शुरुआत के साथ ही डेबिट और क्रेडिट कार्ड के पेमेंट नियमों में बड़ा बदलाव होने जा रहा है, आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस महीने की शुरुआत में ही इसकी जानकारी दी है, जिसके तहत अब आप कॉन्टैक्टलेस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स के अधिकतम 5000 रुपये तक का भुगतान बिना किसी पिन के आसानी से कर सकेंगे, ये सुविधा 1 जनवरी 2021 से देशभर में लागू होगी, अभी तक कांटेक्टलैस डेबिट और क्रेडिट कार्डेस से अधिकतम 2000 रुपये का भुगतान बिना पिन के किया जा सकता था, वन नेशन वन कार्ड स्कीम के तहत भारतीय कंपनी रुपे कांटेक्टलैस डेबिट और क्रेडिट कार्ड्स जारी की थी, इन कार्ड्स की मदद से आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट से लेकर शॉपिंग मॉल तक में आसानी से भुगतान कर सकते हैं।

क्या होता है कांटेक्टलेस डेबिट-क्रेडिट कार्ड

रुपे द्वारा पावर्ड इस कार्ड को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है, ये कार्ड एक तरह का स्मार्ट कार्ड होता है, दिल्ली मेट्रो में ऐसा ही कार्ड चलता है, जिसे आप रिचार्ज कराते हैं, तथा मेट्रो में सफर करते हैं। अब देश के सभी बैंक रुपे के जो भी नये डेबिट और क्रेडिट कार्ड जारी करेंगे, उनमें नेशनल कॉमन मोबेलिटी कार्ड फीचर होगा, ये किसी और वॉलेट की तरह ही काम करेगा।

क्या होता है कांटेक्सलेस ट्रांजेक्शन

इस तकनीक की मदद से कार्ड होल्डर को ट्रांजेक्शन के लिये स्वाइप करने की जरुरत नहीं होती है, प्वाइंट ऑफ सेल मशीन से कार्ड को सटाने पर पेमेंट हो जाता है, कांटेक्टलेस क्रेडिट कार्ड में दो तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है, नियर फील्ड कम्युनिकेशन यानी एनएफसी और रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन, जब इस तरह के कार्ड को इस तकनीक से लैस कार्ड मशीन के पास लाया जाता है, तो पेमेंट अपने आप हो जाता है।

कैसे मिलेगा कार्ड

इस कार्ड को पाने के लिये आपको अने बैंक से संपर्क करना होगा, ये 25 बैंकों में उपलब्ध होने के साथ ही ये कार्ड पेटीएम पेमेंट बैंक द्वारा भी जारी किया जाता है, इस कार्ड को एटीएम पर इस्तेमाल करने पर 5 फीसदी का कैशबैक और विदेश यात्रा के दौरान मर्चेंट आउटलेट पर भुगतान करने पर 10 फीसदी का कैशबैक मिलता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *