चीन में फिर बढ़ा कोरोना का कहर, ब्रिटेन और स्वीडन में लॉकडाउन से अभी राहत नहीं

बीजिंग। कोरोना महामारी का कहर चीन और अमेरिका के साथ यूरोपियन देशों में अभी परेशान करने वाला है। चीन के शंघाई में दो माह के बाद फिर कोरोना के केस मिल गए हैं। ब्रिटेन में अभी लॉकडाउन जारी रहेगा। फ्रांस में दो माह में पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा केस आए हैं। यहां एक दिन में 26 हजार से ज्यादा कुल संक्रमण के मामले मिले। यहां पूर्व में लगाई गई पाबंदियां चल रही हैं।

ब्राजील में मौत का आंकड़ा भयावह है। यहां एक दिन में 1340 लोगों की मौत हो गई। 19 अगस्त के बाद एक दिन में मरने वालों की यह संख्या सबसे ज्यादा है।

स्वीडन में कोरोना संक्रमण की स्थिति में कोई सुधार न होने के कारण लॉकडाउन को बढ़ा दिया गया है। प्रधानमंत्री स्टेफैन लोटवेन ने कहा है कि लगाई गई पाबंदी अभी जारी रहेंगीं।

चीन में टेस्टिंग और ट्रेसिंग का काम तेज

चीन में कोरोना महामारी की दूसरी लहर थम नहीं रही है। अब चीन ने 11 फरवरी से शुरू होने जा रहे चीनी नए साल पर रोकथाम करने के लिए टेस्टिंग और ट्रेसिंग का काम तेज कर दिया है। नए साल पर करोड़ों लोग एक स्थान से दूसरे स्थान पर यात्रा करते हैं। शंघाई में दो माह के बाद कोरोना के मामले मिलना फिर शुरू हो गए हैं। हेबेई प्रांत में कई शहरों में अभी भी लॉकडाउन चल रहा है।

ब्रिटेन में कोरोना के संक्रमण से फिलहाल कोई निजात मिलती नहीं दिख रही है। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा है कि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि लॉकडाउन कब हटाया जाएगा। यहां पर मरने वालों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अस्पतालों पर मरीजों का दबाव बढ़ रहा है।

अफ्रीका में मौत का आंकड़ा विश्व के अन्य देशों के मुकाबले बढ़ गया है। विश्व में कोरोना से मृत्यु दर 2.2 फीसद है, जबकि यहां पर यह दर 2.5 फीसद हो गई है। वैक्सीन लगाए जाने के बाद भी अभी कोरोना से रूस को मुक्ति नहीं मिली है। यहां पिछले 24 घंटों के दौरान 21 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *