संपत्ति विवाद में पूर्व मंत्री की बहू और पोती की हत्या, मामले में नंदोई समेत दो गिरफ्तार

रायपुर। छत्‍तीसगढ़ के पूर्व वनमंत्री स्व. डीपी धृतलहरे की बहू और पोती की शनिवार शाम तकरीबन सात बजे हत्या हो गई। घटना खम्हारडीह इलाके की है। सतनाम चौक स्थित एक मकान में पूर्व मंत्री की बहू और पोती की लाश मिली। इसकी सूचना मिलते ही पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 30 वर्षीय नेहा धृतलहरे व उनकी नौ वर्षीय पुत्री अनन्या धृतलहरे के शव कमरे में दीवान के अंदर मिले। मृतका का भाई जब घर पहुंचा तो घर का दरवाजा बंद मिला। इसके बाद पुलिस को इसकी सूचना दी गई। दरवाजा तोड़कर अंदर जाने पर मृतका के दोनों नंदोई छुपे मिले। नेहा और उसकी पुत्री पीहू उर्फ अनन्या के नहीं दिखने पर खोजबीन की गई। दोनों के शव दीवान के अंदर मिले।

दोनों नंदोइयों से पूछताछ

खम्हारडीह थाना प्रभारी ममता अली शर्मा ने बताया कि मृतका के पति तरण ने पूछताछ के दौरान बताया कि घर में पैसों की जरूरत होने के चलते वह गांव गए हुए थे। पत्नी का फोन बंद था। इस कारण वह तत्काल ही गांव से लौटकर घर आ गए। उन्होंने बताया कि दो दिन पहले ही उसकी पुत्री अनन्या उर्फ पीहू का जन्मदिन धूमधाम से मनाया गया था। फिलहाल पुलिस संदेह के आधार पर मृतिका के दोनों नंदोइयों से पूछताछ कर रही है। पकड़े गए आरोपियों में एक मृतिका का नंदोई डॉक्टर आनंद और उसके साथी दीपक कुमार है, जबकि हत्या का तीसरा आरोपित डॉक्टर अजय राज फरार है। संपत्ति विवाद के कारण ही हत्या करना आरोपितों ने कबूल कर लिया है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार पकड़े गए आरोपितों में परिवार के सदस्य डा. अजय राय व दीपक शतोड़े हैं। बताया जा रहा है कि इनसे ग्लब्स भी बरामद कर लिया गया है। वहीं तीसरा आरोपित अमन फरार बताया जा रहा है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *