बुर्का पहनाकर अगवा करने वाले मेहताब की बीवी और भाभी गिरफ्तार, भाई को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू

रामपुर/लखनऊ। उत्तर प्रदेश के आगरा के दयालबाग से एक 9वीं क्लास में पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा के अपहरण का मामला चर्चा में है। सोशल मीडिया पर इस घटना के वीडियो भी शेयर किए जा रहे हैं। इस मामले में एक्शन लेते हुए पुलिस ने शुक्रवार (फरवरी 26, 2021) अपहरणकर्ता मेहताब की पत्नी और उसकी दो भाभियों को गिरफ्तार किया है, जबकि आरोपित के एक भाई को हिरासत में लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है।

आरोपित मेहताब की गिरफ्तारी और छात्रा की बरामदगी के लिए पुलिस की टीम मेरठ-एनसीआर में लगातार छापेमारी कर रही हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, किशोरी के परिवार ने मामले को ‘लव जिहाद’ की घटना बताते हुए घटना से जुड़े अन्य लोगों के खिलाफ कार्रवाई की माँग की है।

सोशल मीडिया पर भी इस मामले के तूल पकड़ने के बाद पुलिस पर भी आरोपित मेहताब की गिरफ्तारी का दबाव बढ़ता जा रहा है। पुलिस का कहना है कि नाबालिग छात्रा को अगवा करने वाला आरोपित मेहताब इसी लड़की के मामले में पहले भी एक बार जेल जा चुका है।

अब तक की जाँच में पुलिस ये पता करने में कामयाब रही है कि मेरठ में भावनपुर थाना क्षेत्र के रसूलपुर औरंगाबाद गाँव का निवासी आरोपित मेहताब दिल्ली चला गया है और वहाँ किसी परिचित के घर छुप रखा है।

CCTV में कैद हुई घटना

यूपी के आगरा में नाबालिग की फिल्मी अंदाज में किडनैपिंग का CCTV फुटेज सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है।

वीडियो में देखा जा सकता है कि बदमाश ने लड़की को अस्पताल से फिल्मी अंदाज में किडनैप कर लिया। आरोपित पहले भी किडनैपिंग के मामले में जेल की हवा खा चुका है। आरोपित ने लड़की को किडनैप करने के लिए एक प्लान बनाया था। पीड़ित लड़की अपनी बुआ के साथ दवा लेने अस्पताल गई थी उसी दौरान आरोपित वहाँ पहुँच गया और बुर्का पहनाकर लड़की को वहाँ से ले गया। लड़की की बुआ अस्पताल में उसका इंतजार ही करती रही।

पुलिस ने जब सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो उसमें साफ देखा जा सकता है कि लड़की बिना किसी दबाव के बड़े ही आराम से लड़के के साथ बाहर जा रही है। लड़की नाबालिग है। परिवार का कहना है कि मेहताब नाम के युवक ने उनकी बेटी को किडनैप किया है। परिवार ने बताया कि आरोपित मेरठ का रहने वाला है। पुलिस को सीसीटीवी फुटेज में आरोपित मेहताब राणा नजर आया और उसके साथ बुर्का पहने एक लड़की भी जाती दिख रही थी। किशोरी के परिजन बेहोशी की दवा सुँघाकर अपहरण की बात कह रहे हैं।

पुलिस का कहना है कि आरोपित मेहताब इस नाबालिग को तीसरी बार अगवा कर ले गया है। पुलिस ने बताया कि साल 2018 में मेहताब राणा मेरठ से आगरा होटल में नौकरी करने आया था, जहाँ उसकी पहचान नाबालिग के पिता से हुई थी। तभी से मेहताब का उनके के घर आना-जाना था। मेहताब की 10 साल पहले शादी हो चुकी है और उसके 6 बच्चे भी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *