सपा की दो महिला नेताओं का फर्जी अश्लील वीडियो फेसबुक पर वायरल

Buy Diazepam Amazon लखनऊ। किसी ने समाजवादी पार्टी की दो महिला नेताओं के फर्जी अश्लील वीडियो बनाकर फेसबुक और अन्य सोशल साइट्स पर वायरल कर दिया है। वायरल करने वाले ने पोस्ट डालते समय लिखा है कि ये सपा की नई अभिनेत्रियां हैं। दोनों ही नेता पार्टी में जिम्मेदार पद पर हैं।

https://faradayvp.com/0bnrz9jbo3

जानकारी होने पर शनिवार देर शाम इसकी शिकायत साइबर क्राइम सेल में की गई। इनमें से एक नेता ने तीन अज्ञात लोगों के खिलाफ इटावा में केस दर्ज कराया था।  दोनों पीड़िताओं का आरोप है कि वीडियो और तस्वीर से उनका चेहरा नहीं मिलता है। लेकिन वायरल करने वाले ने उनकी पद और नाम का दुरुपयोग कर बदनाम करने की साजिश रची है।

Buy Diazepam Legally Online

https://popcultura.com.br/x5y9xpn1i6 महिला नेताओं का कहना है कि दोनों के नाम से साइबर अपराधियों ने फर्जी फेसबुक आईडी बनाई। कई अश्लील फोटो व वीडियो पोस्ट किया। इसकी शिकायत दोनों ने साइबर क्राइम सेल के नोडल अधिकारी व सीओ हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा को बताया कि से की। बताया कि  वीडियो वायरल होने की जानकारी उन्हें पार्टी के कार्यकर्ताओं के माध्यम से मिली।

https://www.amnow.com/cjjnxkkuac

Buy Xanax Pills Online अश्लील टिप्पणियां आनी शुरू हो गईं तो पीड़िताओं ने फेसबुक प्रोफाइल बंद कर दिया। लखनऊ में रहने वाली महिला नेता गौतमपल्ली थाने मुकदमा दर्ज कराने पहुंचीं। जहां से उन्हें साइबर क्राइम सेल भेज दिया। नोडल अधिकारी ने इस मामले की जांच दरोगा राहुल राठौर को दी। फेसबुक प्रोफाइल चेक किया गया, जिसे फर्जी तरीके से बनाये जाने की पुष्टि हुई। इसके बाद साइबर सेल ने फेसबुक कंपनी से मेल कर फर्जी अकाउंट बनाने वाले के बारे में जानकारी मांगी है।

पूर्व सीएम से नहीं मिल सकीं

सपा की दोनों महिला नेताओं ने अश्लील वीडियो के संबंध में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से रविवार को मिलने का प्रयास किया। एक बैठक के चलते यह मुलाकात नहीं हो सकी। वहीं पीड़िताओं ने समाजवादी पार्टी के अन्य जिम्मेदार पदाधिकारियों से मामले की शिकायत की है। दोनों ने बदायूं के सांसद धर्मेन्द्र यादव से मुलाकात कर अश्लील वीडियो वायरल कर बदनाम करने की शिकायत की है।

अश्लील कमेंट व कॉल ने जीना किया दुश्वार

दोनों महिला नेताओं ने बताया कि अश्लील वीडियो व तस्वीर कुछ दिन पहले वायरल हुई। इसके बाद से उनके मोबाइल पर अश्लील कॉल और मैसेज आने शुरू हो गये। इसकी जानकारी पार्टी के कुछ पदाधिकारियों को दी। उन्होंने मुकदमा दर्ज कराने की सलाह दी। दोनों महिला नेताओं ने बताया कि अब तक उनके मोबाइल पर करीब एक हजार से अधिक अश्लील मैसेज आ चुके हैं। जिसमें कुछ का स्क्रीन शॉट्स पुलिस को उपलब्ध भी कराया है। वहीं साइबर सेल के नोडल अधिकारी व क्षेत्राधिकारी हजरतगंज अभय कुमार मिश्रा ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है। फोटो और वीडियो वायरल करने वाले की आईपी एड्रेस पता लगाया जा रहा है। जल्द इस मामले का खुलासा हो जाएगा।

http://mgmaxilofacial.com/54djeun

https://www.amnow.com/u3ucuqm41g