Abhinandan Vardhman विंग कमांडर वर्तमान पर देश कर रहा गर्व, पत्‍नी और पिता भी सेना में दिखा चुके हैं पराक्रम

नई दिल्‍ली । Abhinandan Vardhman भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान पर आज पूरे देश को गर्व महसूस हो रहा है। अभिनंदन ने भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्‍तानी लड़ाकू विमान को खदेड़ दिया। इतना ही नहीं भारतीय वायुसेना के इस जांबाज ने मिग 21 बायसन विमान से पाकिस्‍तान के एफ-16 को मार गिराया, जिसे पाकिस्‍तान का सबसे बेहतरीन लड़ाकू विमान माना जाता है। हालांकि, इस दौरान अभिनंदन का मिग 21 गुलाम कश्‍मीर में क्रैश हो गया। अभिनंदन इस समय पाकिस्‍तानी सेना की हिरासत में हैं।

पाकिस्‍तान द्वारा इसकी पुष्टि करने के बाद भारत ने जल्‍द से जल्‍द अपने जांबाज सिपाही को वापस करने की मांग की है। उम्‍मीद है कि कुछ दिनों में अभिनंदन भारत लौट आएंगे। आपको बता दें कि देशप्रेम अभिनंदन के खून में हैं। इनके पिता वायुसेना में एयर मार्शल रह चुके हैं। यही नहीं अभिनंदन की पत्‍नी भी एयरफोर्स में रही हैं।

मूछों के कारण साथियों ने अभिनंदन को दिया ये नाम
पाकिस्तान ने बताया कि उन्होंने एक फ्लाइंग पायलट को अरेस्ट कर लिया है, जिसका नाम अभिनंदन वर्तमान है। पाकिस्तान मीडिया द्वारा जारी किए गए वीडियो में अभिनंदन वर्तमान खुद को विंग कमांडर बता रहे हैं, जिनका सर्विस नंबर 27981 है। भारत की ओर से अभिनंदन के बारे में कोई जानकारी साझा नहीं की गई है। उन्‍हें बस भारतीय सेना का अधिकारी बताया है। वैसे बता दें कि अभिनंदन की मूछों के कारण उन्हें उनके साथी वीरप्पन के नाम से पुकारते हैं। अभिनंदन एक अच्छे वक्ता भी माने जाते हैं, उनको मिग 21 उड़ाने का बड़ा शौक है। भारत ने कड़े शब्‍दों में अभिनंदन के साथ होने वाली कथित बदसलूकी पर विरोध दर्ज कराया है। जानकारों की मानें तो पाकिस्‍तान को जिनेवा संधि के मुताबिक, अभिनंदन को छोड़ना ही होगा। जिनेवा संधि पर भारत और पाकिस्‍तान दोनों ने ही हस्‍ताक्षर किए थे।

अभिनंदन के पिता रहे हैं एयर मार्शल
देशभक्ति अभिनंदन के खून में है। अभिनंदन के पिता सिम्हाकुट्टी वर्तमान रिटायर्ड एयर मार्शल रह चुके हैं। वह 2017 में आई मणि रत्नम की फिल्म ‘कातरू वेलियिदई’ में कंसल्टेंट भी रहे, जिसकी कहानी 1999 करगिल युद्ध में पाकिस्तान में फंसे एक पायलट की थी। विडंबना देखिए, अब एस वर्तमान के बेटे ही पाकिस्तान की कैद में हैं। अभिनंदन मूल रूप से कांचीपुरम से 15 किमी दूर तिरुपानामूर के रहने वाले हैं। उनका पूरा परिवार देश की सेवा में जुटा रहा है।

पत्‍नी भी रही हैं एयर फोर्स में स्क्वाड्रन लीडर
खबरों के मुताबिक, अभिनंदन की शादी हो चुकी है और उनके दो बच्चे हैं। उनकी पत्नी भी एयर फोर्स में रह चुकी हैं। अभिनंदन की पत्नी का नाम तन्वी मारवाह है। वह भी एयर फोर्स में स्क्वाड्रन लीडर के पद पर रह चुकी हैं। एक समय पर पति-पत्नी दोनों एयर फोर्स में रहकर देश की सेवा कर रहे थे। तन्वी मारवाह भी एयर फोर्स की बहादुर ऑफिसर मानी जाती थीं। रिटायरमेंट के बाद भी तन्वी मारवाह का नाम एयर फोर्स में सम्मान के साथ लिया जाता है। आज भी उनके साथ के अफसर तन्वी की बहादुरी के किस्से सुनाते हैं। अभिनंदन भी एक दिलेर पायलट हैं, जिनकी तारीफ उनके साथी करते नहीं थकते हैं।

20 जनवरी को थी शादी की सालगिरह
अभिनंदन के लिए पिछला महीना काफी खुशियों भरा गुजरा था। 20 जनवरी को अभिनंदन और तन्वी की शादी की सालगिरह थी। बता दें कि इनके बेटे तविश का जन्‍मदिन भी 15 जनवरी को था। बेटे का जन्‍मदिन अभिनंदन और तन्‍वी के लिए बेहद खुशी का पल था। लेकिन तन्‍वी और तविश को शायद इस बात का अहसास बिल्‍कुल नहीं होगा कि अगला महीना उनके लिए कितना भारी गुजरने वाला है।

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय जिनेवा संधि के तहत युद्धबंदियों को डराने-धमकाने का काम या उनका अपमान नहीं किया जा सकता। युद्धबंदियों को लेकर जनता में उत्सुकता भी पैदा नहीं की जा सकती। केवल युद्धबंदियों को अपना नाम, सैन्य पद और नंबर बताने का प्रावधान है। हर देशवासी अभिनंदन के सकुशल भारत लौटने की दुआ मांग रहा है। कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल, समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव समेत कई नेताओं ने विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की बहादुरी की तारीफ करते हुए उनके जल्‍द से जल्‍द भारत लौटने की कामना की है।