जो सवाल उठा रहे हैं, वो पाकिस्तान को खुश करने का काम कर रहे हैं: अमित शाह

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने इंडिया टुडे कॉन्क्लेव के मंच पर पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक और इस पूरे घटनाक्रम पर विपक्ष की ओर से उठाए जा रहे सवालों के जवाब दिए. साथ ही पाकिस्तान के दावों को भी खारिज किया. अमित शाह ने कहा कि भारत के एक्शन के सबूत सेना ने दिए हैं और देश के अंदर जो सवाल उठा रहे हैं वो पाकिस्तान को खुश करने का काम कर रहे हैं.

इंडिया टुडे टीवी के न्यूज डायरेक्टर राहुल कंवल ने अमित शाह से एयर स्ट्राइक के सबूतों को लेकर उठ रहे सवालों पर जवाब मांगा तो उन्होंने सेना द्वारा सबूत रखने की बात कही. शाह ने कहा कि जो हुआ, उसके सबूत सेना ने दिए हैं और देश की जनता को यह तय करना चाहिए कि सेना पर भरोसा करना चाहिए कि नहीं.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने ये भी कहा कि जो तथ्य सेना ने रखे हैं, उन पर शंका करने की कोई वजह नहीं है और जो शंका कर रहे हैं, वो पाकिस्तान को खुश करने का काम कर रहे हैं.

दरअसल, 26 फरवरी की रात LoC के पार एयर स्ट्राइक कर भारत की तरफ से दावा किया गया कि बालाकोट में मौजूद जैश के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाकर बड़ी तादाद में दहशतगर्दों को ढेर किया गया है. मीडिया रिपोर्ट्स में सैकड़ों की संख्या में इसके आंकड़े आए, लेकिन पाकिस्तान ने आधिकारिक तौर पर ये कहा कि भारत की स्ट्राइक से उनकी सरहद में कोई नुकसान नहीं हुआ है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया में भी भारत केकी स्ट्राइक से मौत के आंकड़े को लेकर विरोधाभास है.

इसे आधार मानते हुए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर सवाल उठाए हैं. उन्होंने कहा है कि सरकार विपक्ष को बताए कि आतंकियों पर कितने बम गिराए गए और कितनी संख्या में उन्हें मारा गया है. ममता ने बीजेपी सरकार पर जवानों की शहादत पर राजनीति करने का भी आरोप लगाया है.

हालांकि, गुरुवार को थल सेना, वायु सेना और नौ सेना ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर यह दावा किया कि बालाकोट में जो टारगेट हमने तय किए थे, उसे पूरा किया गया है और इसके पूरे सबूत उनके पास हैं.