OIC के प्रस्ताव पर भारत का दो टूक जवाब- कश्मीर हमारा आंतरिक मामला, हम अडिग हैं

नई दिल्ली। भारत ने ओआईसी के एक प्रस्ताव पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि जम्मू कश्मीर उसका अभिन्न अंग है. कश्मीर मुद्दा देश की आंतरिक सुरक्षा से जुड़ा हुआ है. हाल ही में इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) में शामिल देशों के विदेश मंत्रियों की अबूधाबी में बैठक संपन्न हुई थी.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, “जम्मू कश्मीर पर प्रस्ताव के बारे में हमारी स्थिति अडिग और पूर्व परिचित है. हमारा जोर देकर कहना है कि जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा है और यह मुद्दा भारत की आंतरिक सुरक्षा से संबंधित है.”

इससे पहले पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा था कि आईओसी के हालिया संपन्न 48वें सत्र का समापन ऐसे प्रस्ताव के साथ हुआ है जो कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान का “समर्थन” करता है. गौरतलब है कि आईओसी में 57 देश शामिल हैं और इनमें से अधिकांश ऐसे देश हैं जहां मुस्लिम बहुसंख्यक हैं.”

बता दें कि OIC की बैठक में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को OIC द्वारा विशेष अतिथि के तौर पर बुलाया गया था. इस वजह से पाकिस्तान ने ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉरपोरेशन की बैठक का बहिष्कार किया था. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि वह विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल नहीं हो रहे हैं.