अरुण जेटली ने मनमोहन सिंह पर साधा निशाना, कहा- उनका बयान आपत्तिजनक है

नई दिल्ली। केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने रविवार को कांग्रेस के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की टिप्पणी पर आपत्ति जताई. अरुण जेटली ने कहा कि, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का बयान बेहद निराशाजनक और आपत्तिजनक है. मनमोहन सिंह ने कहा था कि, भारत और पाकिस्तान के बीच उन्माद भड़काने की जैसे होड़ मची हुई है. मनमोहन सिंह ने आगे कहा था कि भारत और पाकिस्मान दोनों देश बराबर आतंकवाद से परेशान और पीड़ित है. इसके बाद जेटली ने ट्वीट करके मनमोहन सिंह पर निशाना साधा कहा, उन्होंने कहा कि, मनमोहन सिंह नैतिकता और अन्य आधार पर दोनों देशों के बीच कैसे तुलना कर सकते हैं.

भारत एवं पाकिस्तान के मध्य बढ़ते तनाव के बीच पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा था कि भारतीय और पाकिस्तानी नेतृत्व सूझबूझ से काम लेगा तथा वे आर्थिक विकास की ओर लौटेंगे. उन्होंने अपने संबोधन में कहा था, ‘‘मैं उम्मीद करता हूं कि दोनों देशों का नेतृत्व सूझबूझ से काम लेगा तथा हम आर्थिक विकास में फिर लगेंगे जो भारत एवं पाकिस्तान की आधारभूत आवश्यकता है.’’

Arun Jaitley

@arunjaitley

The most disappointing & objectionable statement was of the former Prime Minister Dr. Manmohan Singh. He stated that he was disturbed with the “Mad rush of mutual self-destruction” by the two nations. According to him perpetrator of terrorism & its victim are both at par.

2,032 people are talking about this

Arun Jaitley

@arunjaitley

The Opposition is entitled to oppose and ask questions, but then restrain and statesmanship are also an essential ingredient of public discourse. I hope, India’s Opposition revisits its position and does not let down the nation.

813 people are talking about this
सिंह ने कहा, जब हमारा देश आपसी आत्म विनाश की पागल दौड़ के कारण एक अन्य संकट में उलझ गया है. यह दौड़ भारत एवं पाकिस्तान, दोनों देशों में चल रही है.’’ सिंह ने कहा, ‘‘हमारी मूलभूत समस्या बढ़ती गरीबी.. रोगों से छुटकारा पाना है. इनसे दोनों देशों के लाखों नागरिक अभी तक पीड़ित हैं.’’