क्या लंदन में हुई राहुल-माल्या के बीच सांठगांठ: रविशंकर प्रसाद

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने पूछा कि क्या लंदन दौरे में राहुल गांधी और माल्या के बीच सांठगांठ हुई. जब उनसे पूछा गया कि आखिर दो साल बाद माल्या ने यह क्यों कहा कि वो वित्त मंत्री अरुण जेटली से मिले थे. इसके जवाब में रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘यह सवाल आपको उनसे पूछना चाहिए, मुझसे नहीं. हाल ही में राहुल गांधी लंदन गए थे. क्या कुछ साझा चल रहा है?’

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी को इस्तीफा देना चाहिए. नेशनल हेराल्ड केस में उन्होंने कितने करोड़ की संपत्ति ली. कुछ रुपये के कारण उनके केस को भी दिल्ली हाईकोर्ट ने क्रॉस करना उचित नहीं समझा. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने ये मांग की थी कि मीडिया इस केस को नहीं छापे लेकिन उनकी इस मांग को कोर्ट ने नहीं माना.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक बात का जवाब दे कि 1947 से 2008 के बीच में सारे बैंकों ने 18,00,000 करोड़ लोन दिया. 2008 से 2014 हमारी सरकार के आने से पहले वह बढ़कर 52,00,000 करोड़ हो गया. वह कौन सी ताकतें थी जो बैंक पर लोन के लिए दबाव डाल रही थी. 2 साल बाद गांधी के दरबार में पीएल पुनिया को एक दरबारी के तौर पर खड़ा कर दिया गया है, जो 2 साल कुछ नहीं बोलते हैं. हमारी सरकार ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रही है. रविशंकर प्रसाद ने बताया कि आज विजय माल्या को भगोड़ा घोषित किया गया है.

उन्होंने कहा कि मेहुल चोकसी को 2014 के लोकसभा रिजल्ट आने के 2 दिन पहले चिदंबरम ने स्टार रेटिंग दे दी थी. यानी वो बड़ी संख्या में डायमंड इंपोर्ट कर सकते हैं. साथ ही उन्होंने कहा, ‘हमारी सरकार सख्त कार्रवाई कर रही है. हम लोगों ने कानून में सख्ती की है. प्रॉपर्टी को टाइट करने की कोशिश की है. हम बैंकों को ठीक कर रहे हैं तो ईमानदार शासन में कांग्रेस को परेशानी होती है.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *