Asia Cup 2018: पाकिस्तान की टीम बेहतरीन, मुकाबला अच्छा होगा : रोहित शर्मा

दुबई।  शनिवार से शुरू हो रहे एशिया कप-2018 में भारतीय क्रिकेटप्रेमियों की नजर खिताब के साथ-साथ पाकिस्तान से मुकाबले पर भी लगी होंगी. टूर्नामेंट शुरू होने से एक दिन पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने भी माना कि पाकिस्तान से मुकाबला हमेशा रोमांचक होता है. लेकिन टीम इंडिया का ध्यान टूर्नामेंट में मैच दर मैच खेलने पर है.

एशिया कप शुरू होने से एक दिन पहले शुक्रवार को सभी छह टीमों के कप्तानों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसमें उम्मीद के मुताबिक रोहित शर्मा से पाकिस्तान से मुकाबले को लेकर सवाल किए गए. उन्होंने इसके जवाब में कहा, ‘यकीनन, हर व्यक्त भारत-पाकिस्तान मैच की बात कर रहा है, लेकिन हम अभी मैच दर मैच फोकस कर रहे हैं.’

पाकिस्तान की टीम मजबूत 
रोहित शर्मा ने कहा, ‘पाकिस्तान से खेलना हमेशा रोमांचक होता है. पाकिस्तान की टीम हमेशा से ही मजबूत रही है. उसने हमेशा अच्छा प्रदर्शन किया है. इस बार भी दोनों टीमों के बीच अच्छा मुकाबला देखने को मिलेगा.’ भारत और पाकिस्तान के बीच 19 सितंबर को मुकाबला होना है.

एमएस धोनी से मिले शोएब मलिक 
इससे पहले भारत और पाकिस्तान की टीमों ने शुक्रवार को नेट प्रैक्टिस की. भारतीय टीम जब प्रैक्टिस कर रही थी, तब पाकिस्तान के क्रिकेटर शोएब मलिक भी भारतीय कैंप में आ गए. उन्होंने एमएस धोनी से कुछ देर बात की.

अबकी बार 6 टीमें उतरेंगी मैदान पर 
एशिया कप-2018 में छह टीमें मैदान पर उतरेंगी. ग्रुप ए में भारत और पाकिस्तान के साथ हांगकांग की टीम को रखा गया है. अफगानिस्तान, बांग्लादेश और श्रीलंका ग्रुप-बी में शामिल है. प्रत्येक ग्रुप से टॉप-2 टीमें सुपर-4 में जगह बनाएंगी. सुपर-4 की टॉप-2 टीमें फाइनल खेलेंगी. भारत ने इस टूर्नामेंट में अपनी पूरी टीम नहीं उतारी है. उसने कप्तान विराट कोहली को रेस्ट दिया है.

भारत 6 और पाकिस्तान दो बार चैंपियन बना 
भारतीय टीम ने सबसे अधिक छह बार (1984, 1988, 1990/91, 1995, 2010, 2016)  एशिया कप जीता है. इसमें पांच वनडे और एक टी20 फॉर्मेट का खिताब है. पाकिस्तान दो बार (2000 और 2012) एशिया कप जीत चुका है. श्रीलंका ने इस खिताब पर पांच बार (1986, 1997, 2004, 2008 और 2014) कब्जा जमाया है. बांग्लादेश दो बार (2012, 2016) उपविजेता रह चुका है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *