मायावती केवल राजनीतिक पर्यटन के इरादे से आती लखनऊ

लखनऊ । बसपा प्रमुख मायावती ने रविवार को भाजपा पर जमकर प्रहार किया तो भाजपा ने भी उन पर आरोपों की बौछार कर दी। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ.महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि ‘उप्र की जनता के प्रति उन्हें कितनी वेदना है, इसका अंदाजा इससे ही लगाया जा सकता कि तीन माह बाद यहां प्रकट हुई हैं। वह केवल राजनीतिक पर्यटन के इरादे से लखनऊ आती हैं और बयान देकर चली जाती हैं।’

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने यहां पत्रकारों से कहा कि भाजपा हमेशा रिश्तों को प्राथमिकता देती है। भाजपा ने उन्हें तीन बार मुख्यमंत्री बनाया और जिस समय सपा के गुंडे उनको बेइज्जत कर रहे थे, उनकी रक्षा की लेकिन, मायावती ने कभी रिश्तों की परवाह नहीं की। डॉ. पांडेय ने कहा कि मायावती ने बसपा संस्थापक और दलितों के मसीहा कांशीराम के साथ क्या किया, यह पूरा प्रदेश जानता है। आज भी कांशीराम का परिवार मायावती के खिलाफ लड़ाई लड़ रहा है। डॉ. पांडेय ने कहा कि मायावती की राजनीति अपने कुनबे के विकास और लूटतंत्र तक सीमित है। ऐसे में उनके मुंह से दलितों और आदिवासियों के विकास की बात कोरी कल्पना के सिवा कुछ नहीं है। जिस कांग्रेस राज में दलितों, आदिवासियों का उत्पीडऩ हुआ, भ्रष्टाचार चरम पर पहुंचा, उसके साथ खड़ी होकर मायावती सत्ता सुख उठाती रहीं। जिस सपा राज में दलितों के साथ अत्याचार और ज्यादती की इंतहा हो गई, मायावती उन्हीं के साथ हाथ मिला रही हैं।

उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर भी तंज किया कि जो पिता और चाचा के नहीं हुए, वह मायावती के क्या होंगे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि मायावती ने भाजपा के साथ भले रिश्तों का निर्वाह नहीं किया लेकिन, जनता ने उन्हें सबक सिखा दिया। लोकसभा में शून्य और विधानसभा में मात्र 19 सीटों पर उन्हें समेट कर उनके भ्रष्टाचार का सबक दे दिया। डॉ. पांडेय ने कहा कि भाजपा ने आंबेडकर से जुड़े स्थानों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित किया है। डॉ. पांडेय ने मोदी सरकार की उपलब्धियां भी गिनाईं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *