लोकसभा चुनाव के लिए अखिलेश ने बनाया प्लान, इस तरह घेरेंगे बीजेपी को

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के लिये अपने अभियान का आगाज करने जा रही समाजवादी पार्टी (सपा) ने अगले महीने शुरू हो रही साइकिल यात्रा को हरी झंडी दिखाने के लिये दो साल के बच्चे खजांची को चुना है. खजांची का जन्म नवम्बर 2016 में हुई नोटबंदी के दौरान बैंक में लगी लाइन में हुआ था.

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बताया कि आगामी 16 सितम्बर को वह कन्नौज से शुरू होने वाली “हक और सम्मान साइकिल यात्रा” की अगुवाई करेंगे. खजांची इसे हरी झंडी दिखाएगा. वहीं, आगरा एक्सप्रेस-वे पर जन्मा अखिलेश नामक लड़का इसका औपचारिक समापन करेगा.

इस कदम के पीछे पार्टी का मकसद लोगों को नोटबंदी की नाकामी और सपा की पिछली सरकार द्वारा बनवाये गये लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे की कामयाबी की याद दिलाना है.

अखिलेश ने कहा,”हमने यात्रा को हरी झंडी दिखाने के लिये उस खजांची के परिवार को चुना है, जिसके जन्म के समय उसकी मां नोटबंदी के बाद धन निकालने के लिये बैंक की लाइन में खड़ी थी. यह नोटबंदी की नाकामी को जाहिर करने की कोशिश है, जिसने देश के व्यापारियों और अर्थव्यवस्था को बहुत गहरा नुकसान पहुंचाया है.”

उन्होंने बताया कि करीब 40 किलोमीटर लम्बी यह यात्रा लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर सम्पन्न होगी. इसका समापन अखिलेश नामक लड़का करेगा, जिसका जन्म दिसम्बर 2017 में एक्सप्रेस-वे के नजदीक खबौली गांव के पास हुआ था. अखिलेश की मां मीरा ने प्रसव पीड़ा होने पर अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में एक्सप्रेस-वे की हवाई पट्टी के पास उसे जन्म दिया था.

‘हक और सम्मान साइकिल यात्रा’ के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं, किसानों और आम लोगों से मिलेंगे और उन्हें केन्द्र तथा उत्तर प्रदेश की मौजूदा भाजपा सरकारों की नाकामियां याद दिलाएंगे.

अखिलेश ने कहा कि यह यात्रा तो बस शुरुआत है. इसका नाम ‘हक और सम्मान यात्रा’ इसलिये रखा गया है ताकि लोग यह समझ सकें कि उन्हें अपना हक और सम्मान छीनकर लेना होगा. पार्टी के कार्यक्रमों का सिलसिला आगामी लोकसभा चुनाव तक चलेगा. लगभग 50 किलोमीटर तक की दूरी के लिये हम साइकिल यात्राएं निकालेंगे. वहीं, लम्बी दूरी के लिये रथ यात्राएं निकाली जाएंगी.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मौजूदा भाजपा सरकार ने जनता के साथ छल किया है. पिछली सरकार ने विकास के जो काम शुरू किये थे, उन्हें बंद कर दिया. अवाम इस सरकार से त्रस्त है और खुद को ठगा महसूस कर रही है. हम समाजवादी लोग आम आदमी की आवाज उठाते रहेंगे. इस लिहाज से वर्ष 2019 का लोकसभा चुनाव बेहद महत्वपूर्ण होगा. उन्होंने दावा किया कि लोगों ने अब भाजपा के खिलाफ अपना मन बना लिया है और वे अगले चुनाव में अपनी ताकत दिखाएंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *