विराट की पत्नी को साथ ले जाने की गुजारिश: CoA सदस्य ने कहा, अभी फैसला नहीं हुआ

नई दिल्ली। टीम इंडिया के खिलाड़ियों को अपनी पत्नियों को विदेशी दौरों पर साथ ले जाने और कितना वक्त उन्हें साथ रखने का मामला अभी खत्म नहीं हुआ है. कुछ समय पहले ही टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने बीसीसीआई से मांग की थी कि लंबे विदेशी दौरों पर क्रिकेटर्स को पत्नी या गर्लफ्रेंड्स के साथ ज्यादा दिनों तक रहने की इजाजत दी जाए. खबरें ऐसी भी आईं थी की बीसीसीआई ने विराट की यह मांग स्वीकार भी कर ली है लेकिन प्रशासकों की समिति सीओए की एक सदस्य ने स्पष्ट किया है ये खबरें गलत हैं.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, सीओए ने कहा था कि पत्नी और गर्लफ्रेंड्स अब क्रिकेटर के साथ दौरे के शुरुआती 10 दिन तक साथ नहीं होंगी. लेकिन वे इसके बाद (बचे हुए दौरे के लिए) साथ रह सकती हैं. पुरानी नीति के अनुसार पत्नी और गर्लफ्रेंड्स विदेशी दौरों पर क्रिकेटर के साथ केवल 15 दिनों के लिए रह सकती थीं.

अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है
इन्हीं खबरों के बीच एएनआई के अनुसार, सीओए की सदस्या डायना एदुल्जी ने स्पष्ट किया है कि अभी इस मामले में कोई निर्णय नहीं लिया गया है. इस फैसले में अभी कुछ और वक्त लग सकता है. मीडिया में जो खबरें फैल रहीं हैं वे गलत हैं.

इससे पहले बीसीसीआई ने 2015 में क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के सीईओ जेम्स साउदरलैंड के इस निर्णय का स्वागत किया था कि पत्नी और गर्लफ्रेंड्स के साथ रहने से ऑस्ट्रेलिया की परफॉर्मेंस खराब हुई है, लेकिन अब नए फैसले के मुताबिक, क्रिकेटर लंबे दौरे पर अपनी पत्नी और गर्लफ्रेंड्स को साथ रख सकेंगे.

बार बार बदला है यह नियम
दरअसल इंग्लैंड दौरे से पहले क्रिकेटरों को अपने साथ विदेशी दौरों पर पूरे समय तक पत्नी को साथ ले जाने की इजाजत थी. इंग्लैंड दौरे पर वनडे सीरीज के बाद और टेस्ट सीरीज के पहले खाली बचे टाइम में भारतीय खिलाड़ी अपनी पत्नियों और प्रेमिकाओं के साथ विदेश में क्वालिटी टाइम स्पेंड किया था. इसके अलावा कप्तान विराट कोहली, दिनेश कार्तिक, उमेश यादव, रोहित शर्मा टी-20 और वनडे सीरीज के दौरान भी पत्नियों के साथ एन्जॉय करते नजर आए थे. उस समय टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने अपने परिवार के साथ छुट्टियों के तस्वीरें सोशल मीडिया पर भी साझा की थीं जिसपर काफी बवाल हुआ था.

14 दिन वाला नियम
इंग्लैंड दौरे में ही सवाल उठाए थे कि टीम वहां क्रिकेट खेलने गई है कि एंजॉय करने. इस दौरे पर टीम इंडिया टी20 सीरीज जीतने के बाद वनडे सीरीज भी हार गई थी. इसके बाद इंग्लैंड के विरुद्ध अभ्यास मैच से पहले बीसीसीआई ने अपने खिलाड़ियों को पार्टनर से दूर रहने को भी कहा था. इसके साथ ही बीसीसीआई ने गाइडलाइन जारी की जिसके तहत  अब मैच शुरुआती 14 दिन क्रिकेटर्स की पत्नियों का दौरे पर आना मना होगा. इसके बाद के दो हफ्तों यानी चौदह दिन के लिए पत्नियां अपने क्रिकेटर पतियों के साथ रह सकती हैं.