बैटिंग कोच ने बताया कितना स्कोर न्यूजीलैंड के लिया काफी, शुभमन गिल की रणनीति का भी खुलासा

भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद बताया, कि न्यूजीलैंड के खिलाफ पकड़ बनाने के लिये कितने रन बनाने होंगे, उन्होने जहां भारतीय कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे की बल्लेबाजी की सराहना की, वहीं रोहित और शुभमन गिल की भी तारीफ की, उन्होने गिल की ट्रैक पर नीचे आने के पीछे की रणनीति को लेकर भी खुलासा किया।

क्या कहा

बल्लेबाजी कोच ने दूसरे दिन के खेल के बाद मीडिया से कहा, कि साउथैम्प्टन में इस समय जैसी परिस्थितियां है, उन्हें देखते हुए 250 या उससे ज्यादा का स्कोर उचित होगा, दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद टीम इंडिया का स्कोर 146 रन 3 विकेट के नुकसान पर है, क्रीज पर विराट कोहली 44 और रहाणे 29 रन बनाकर नाबाद हैं, दूसरे दिन का खेल खराब रोशनी की वजह से जल्दी खत्म कर दिया गया, पहला दिन बारिश से धुल गया था, हालांकि आईसीसी ने इस मैच के लिये एक रिजर्व डे भी रखा है।

खेल ऐसे ही चलेगा

विक्रम राठौर ने कहा कि गेंद एक बार पुरानी होने पर और ज्यादा स्विंग होती है, न्यूजीलैंड ने गेंदबाजी इकाई के रुप में भी बेहतर क्षेत्रों में प्रहार किया, हालांकि पिछले सत्र में आपने देखा कि रन भी आ रहे थे, खेल ऐसे ही चलेगा, गेंदबाजों के पास आपके लिये हमेशा कुछ ना कुछ रहेगा, हमें सत्र में बल्लेबाजी करनी होगी। उन्होने विराट-रहाणे की बल्लेबाजी की तारीफ की, उन्होने कहा कि मैं रोहित और शुभमन को भी काफी श्रेय दूंगा, कठिन विकेट, बादल छाये रहने की स्थिति में ऐसी बैटिंग का श्रेय सभी बल्लेबाजों को जाता है, उन्होने अच्छा संयम दिखाया, हमने दिन का अंत अच्छी तरह से किया।

रणनीति का खुलासा

राठौर ने गिल के ट्रैक पर नीचे आने की रणनीति का भी खुलासा किया, उन्होने कहा कि उन्हें स्विंग का मुकाबला करने और स्कोरिंग के मौके तलाशने की थी, शुभमन नीचे आ रहे थे, स्विंग का ये मुकाबला करना था, एक बल्लेबाजी समूह के रुप में ये तय किया गया था, कि जब भी मौका मिले, तो रन तलाशें, उन्होने ऐसा ही किया, ये देखना अच्छा रहा। उन्होने कहा शुभमन और रोहित आक्रमण कर सकते हैं और गेंदबाजों पर दबाव बना सकते हैं, दुर्भाग्य से दोनों एक साथ आउट हो गये, ये दोनों गेंदबाजी पक्ष पर काफी दबाव डाल सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *