सुलझ गया विवाद! पंजाब कांग्रेस चीफ बने रहेंगे नवजोत सिंह सिद्धू, इस्तीफा लिया वापस

पंजाब कांग्रेस में लंबे समय से चल रहा विवाद आखिरकार सुलझ गया है. पिछले दिनों पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष पद (Punjab Congress Chief) से इस्तीफा देने वाले नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने शुक्रवार को नई दिल्ली में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) से मुलाकात की. बैठक में सिद्धू ने राहुल से अपनी चिंताओं को साझा किया और यह भी जानकारी दी कि उन्होंने दिया गया अपना इस्तीफा वापस ले लिया है.

28 सितंबर को सिद्धू ने दिया था इस्तीफा

इससे पहले हरीश रावत ने कहा था कि नवजोत सिंह सिद्धू ने बताया है कि उनकी नेता सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका गांधी हैं और वे जो कहेंगे उसका पालन करेंगे और पार्टी के लिए काम करते रहेंगे. 28 सितंबर को नवजोत सिंह सिद्धू ने पार्टी की पंजाब इकाई के भीतर हुए विवाद के बाद पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया था. हालांकि, पार्टी नेतृत्व ने उनके इस्तीफे को स्वीकार नहीं किया था और उन्हें दिल्ली में वरिष्ठ नेताओं से मिलने के लिए कहा गया था.

सिद्धू ने गुरुवार को पार्टी मुख्यालय में एआईसीसी महासचिव (संगठन) केसी वेणुगोपाल और पंजाब के प्रभारी महासचिव हरीश रावत से मुलाकात की. गुरुवार को हुई बैठक के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा था, ”मैंने पंजाब और पंजाब कांग्रेस को लेकर अपनी चिंता पार्टी आलाकमान के सामने रखी है और मुझे कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल जी और प्रियंका जी पर पूरा भरोसा है कि जो भी फैसला लेंगे वे, वह कांग्रेस और पंजाब के हित में होगा.” बैठक के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने कहा था कि नवजोत सिंह सिद्धू के पद से इस्तीफे पर अंतिम फैसला शुक्रवार को लिया जाएगा. हरीश रावत पहले ही संकेत दे चुके थे कि सिद्धू पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष बने रहेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *