रोम में ‘मोदी-मोदी’: G-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होंगे प्रधानमंत्री, महात्मा गाँधी की मूर्ति पर अर्पित किए श्रद्धासुमन

पीएम मोदी शुक्रवार (29 अक्टूबर 2021) को 16वें G20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए रोम पहुँचे। 2020 की शुरुआत में वैश्विक महामारी के फैलने के बाद से यह पहला इन-पर्सन जी20 शिखर सम्मेलन है। अपनी यात्रा के पहले दिन पीएम मोदी ने रोम के पियाजा गाँधी में महात्मा गाँधी को श्रद्धांजलि दी और उनकी प्रतिमा को पुष्पांजलि अर्पित की। इस दौरान पीएम मोदी ने रोम के पियाजा गाँधी में इकट्ठा हुए भारतीय समुदाय के लोगों से मुलाकात भी की। इस दौरान लोगों ने संस्कृत श्लोक और ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगाकर पीएम मोदी का स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 29 अक्टूबर से दो नवंबर तक रोम और ग्लासगो की यात्रा पर रहेंगे। विदेश सचिव ने बताया कि प्रधानमंत्री इटली में 29 से 31 अक्टूबर तक जी-20 देशों के समूह के शिखर सम्मेलन में भाग लेने रोम (इटली) में रहेंगे और इसके बाद 26वें कॉन्फ्रेंस ऑफ पार्टीज (सीओपी-26) में विश्व नेताओं के शिखर बैठक में हिस्सा लेंगे, ब्रिटेन के ग्लासगो जाएँगे।

शिखर सम्मेलन के पहले दिन ‘वैश्विक अर्थव्यवस्था और वैश्विक स्वास्थ्य’ पर विचार-विमर्श होगा, जबकि दूसरे दिन प्रिंस ऑफ वेल्स द्वारा जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में निजी वित्त की भूमिका के विषय पर एक भाषण दिया जाएगा। साथ ही दूसरे दिन विश्व के नेता जलवायु परिवर्तन और पर्यावरण, सतत विकास सहित अन्य मुद्दों पर भी विचार-विमर्श करेंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार, इटली सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों और रोम में भारत के राजदूत ने मोदी की अगवानी की। पीएम मोदी की 31 अक्टूबर तक रोम और वेटिकन सिटी की यात्रा उनके इतालवी समकक्ष मारियो ड्रैगी के निमंत्रण पर हो रही है। जी20 शिखर सम्मेलन से इतर मोदी अन्य सहयोगी देशों के नेताओं से भी मुलाकात करेंगे और उनके साथ भारत के द्विपक्षीय संबंधों में प्रगति की समीक्षा करेंगे। वेटिकन में मोदी पोप फ्रांसिस से मुलाकात करेंगे और विदेश मंत्री कार्डिनल पिएत्रो पारोलिन से मुलाकात करेंगे।

पीएम ने इटली पहुँच कर यूरोपियन काउंसिल के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल और रोम में यूरोपियन कमीशन के अध्यक्ष उर्सुल वॉन डेर लेयन के साथ संयुक्त बैठक की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *