मंदिर की मूर्ति से ही साधु और साध्वी की हत्या, परिसर में ही मिले दोनों के शव: यूपी के महाराजगंज की घटना

उतर प्रदेश के महराजगंज जिले में एक मंदिर से पुजारी और साध्वी का शव बरामद हुआ है। इन दोनों के हत्या की आशंका जताई जा रही है। यह घटना परसा मलिक थाना क्षेत्र के महदेइया गाँव की है। घटना गुरुवार (18 नवम्बर 2021) रात की बताई जा रही है। ग्रामीणों ने दोनों शव शुक्रवार (19 नवम्बर 2021) की सुबह मंदिर परिसर में देखा। पुलिस ने मौके पर पहुँच कर शव को कब्ज़े में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

इस घटना की पुष्टि महराजगंज पुलिस ने की है। घटनास्थल पर गोरखपुर जोन के ADG अखिल कुमार और महाराजगंज SP प्रदीप गुप्ता ने दौरा किया। पुलिस ने इस हत्याकांड के खुलासे के लिए फील्ड यूनिट, डॉग स्क्वॉड व कई अन्य टीमों को लगाया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, हत्यारों ने हमले के लिए मंदिर में ही लगी एक मूर्ति का प्रयोग किया है। इस मूर्ति से दोनों के सिर पर वार किया गया है। यह दुर्गा माता का मंदिर है, जिसे गाँव के ही राम रतन मिश्रा ने बनवाया था। उनकी उम्र लगभग 73 वर्ष थी। वो उसी मंदिर में पुजारी थे। उसी मंदिर में लगभग 20 वर्षों से नेपाल के धकढाई चेनपुरवा की कलावती भी रहती थीं। उनकी उम्र लगभग 65 वर्ष थी। वह भी मंदिर में पूजा-पाठ किया करती थीं। कलावती को स्थानीय लोग साध्वी के नाम से पुकारते थे। इन्हीं दोनों की हत्या की गई है।

मृतक मिश्रा अविवाहित थे और यह मंदिर उन्होंने अपने निजी पैसे से बनवाया था। जिस मूर्ति से पुजारी और साध्वी पर हमला किया गया, वह एक हाथी की थी। कुछ ही दिन पहले मिश्रा वाराणसी से हनुमान जी की एक मूर्ति खरीद कर लाए थे। इस मूर्ति को मंदिर में स्थापित करवाने के बाद उन्होंने भंडारा भी करवाया था।

इस मामले में पुलिस अधीक्षक महाराजगंज ने बताया कि हत्या से जुड़े हर पहलू की जाँच की जा रही है। पहली नजर में विवाद सम्पत्ति का लग रहा है। पुलिस ने संदेह के आधार पर पूछताछ के लिए कुछ लोगों को बुलाया है। दोनों मृतकों का एक-एक कमरा बना हुआ है वो उसी में रहते थे। मंदिर गाँव के बाहर सुनसान इलाके में है।

एक अन्य रिपोर्ट के अनुसार, पुजारी के 2 अन्य भाई भी हैं। घटना के कुछ ही दिन पहले निर्माणाधीन रोहिन बैराज में मृतक की ज़मीन निकली थी। बताया जा रहा है कि जमीन के बदले मुआवजे में मृतक को 14 लाख रुपए मिले थे। ग्रामीणों को शक है कि हत्या की वजह रुपए और पारिवारिक संपत्ति हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *