केरल बाढ़: यूएई की 700 करोड़ रुपये की मदद ठुकरा सकता है भारत

http://mgmaxilofacial.com/l5kt3pf6x नई दिल्ली। यूएई सरकार द्वारा केरल के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 700 करोड़ रुपये की सहायता देने की पेशकश हो सकता है कि परवान न चढ़ सके. आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक भारत केरल बाढ़ राहत और बचाव के लिए किसी भी तरह की विदेशी मदद नहीं लेना चाहता है.

https://poweracademy.nl/0ut7mch

सूत्रों का कहना है कि सरकार बहुत सोच विचार के बाद इस नतीजे पर पहुंची है कि केरल में बाढ़ के हालात से निपटने के लिए घरेलू संसाधनों का ही इस्तेमाल किया जाए और इसके लिए कोई विदेशी मदद न ली जाए.

Buy Valium England

https://ontopofmusic.com/2022/09/k8ocyeluf6q पीएम मोदी से की बात  संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने केरल में बाढ़ से राहत और बचाव के लिए वित्तीय सहायता के रूप में 10 करोड़ अमेरिकी डॉलर या करीब 700 करोड़ रुपये देने की पेशकश की है. केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने बताया कि अबु धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत के दौरान इस सहायता की पेशकश की.

https://www.radioculturasd.com.br/xr6h0c5

https://parisnordmoto.com/jh4qimxn5af करीब 30 लाख भारतीय यूएई में रहते हैं और इनमें से करीब 80% केरल के हैं. यूएई के अलावा मालदीव ने भी करीब 35 लाख रुपये सहायता देने की पेशकश की है. मालदीव ने कहा है कि ये राशि हालांकि बहुत कम है, लेकिन ये भारत के साथ एकजुटता दिखाने के लिए एक टोकन एमाउंट है. माना जा रहा है कि संयुक्त राष्ट्र भी केरल के लिए कुछ सहायता की घोषणा कर सकता है.