INDvsAUS: शमी ने दो गेंदों में ऑस्ट्रेलिया को समेटा, अब हैट्रिक के लिए अगली पारी का इंतजार

 भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चल रही टेस्ट सीरीज के पहले मैच में टीम इंडियाके 250 रन के जवाब में ऑस्ट्रेलिया की पारी 235 रनों पर सिमट गई जिसमें मोहम्मद शमीने आखिरी दो गेंदों पर लगातार विकेट लेकर मैच को रोमांचक बनाते हुए अपने लिए हैट्रिक लेने का मौका बना लिया. इस पारी में टीम इंडिया को अब 15 रनों की अहम मनोवैज्ञानिक बढ़त मिल गई है.

तीसरे दिन मैच में बारिश का साया रहा और लंच से पहले केवल 11 ओवर का ही खेल हो सका जिसमें टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट लेने में कामयाब रही.  दिन के तीसरे ही ओवर में जसप्रीत बुमराह ने मिचेल स्टार्क को विकेट के पीछे पंत के हाथों कैच करा दिया. स्टार्क 15 रन बनाकर आउट हुए. इसके बाद ट्रेविस हेड और नाथन लायन ने बढ़िया बल्लेबाजी की और टीम को स्कोर 235 तक पहुंचा दिया.

वापसी कराई शमी ने
यहां मोहम्मद शमी ने पहले ट्रेविस हेड को 72 के निजी स्कोर पर आउट किया और उसकी अगली ही गेंद पर हेजलवुड भी पंत को कैच दे बैठे और ऑस्ट्रेलिया की पारी 235 रनों पर ही आउट हो गई. शमी ने 16.4 ओवर में 58 रन देकर दो विकेट लिए. अब शमी के पास हैट्रिक लेने का बढ़िया मौका है. अब तक भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में हरभजन सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ और इरफान पठान ने पाकिस्तान के खिलाफ हैट्रिक ली है.

दिलचस्प बात यह है कि मैच का दूसरा दिन मोहम्मद शमी के लिए खराब ही रहा था. दिन की पहली ही गेंद वे बिना खाता खोले ही आउट हो गए और दिन भर ने विकेट भी नहीं ले सके जबकि बाकी सभी गेंदबाज विकेट लेने में कामयाब रहे थे. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने 88 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर 197 रन बना लिए थे. क्रीज पर नियमित बल्लेबाज के नाम पर ट्रेविस हेड 61 रन बनाकर मौजूद थे जबकि उनके साथ मिचेल स्टार्क थे.

वार्नर स्मिथ की कमी का दिखा असर
ऑस्ट्रेलिया की पारी में स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी साफ दिखाई दी. पहले ही टीम को इन दोनों की गैरमौजूदगी की वजह से कमजोर माना जा रहा था, लेकिन शुक्रवार को टीम पर उसका मनोवैज्ञानिक असर साफ दिखाई दिया. पहले ओवर में फिंच का विकेट और फिर सभी बल्लेबाजों की धीमी बल्लेबाजी दिन का खास आकर्षण रही. यह धीमी बल्लेबाजी ऑस्ट्रेलिया के मैदानों के लिहाज से वह भी भारत के खिलाफ काफी अहम मानी जाएगी क्योंकि अब ऑस्ट्रेलिया की टीम इस सीरीज में खुल कर बल्लेबाजी करे इसकी उम्मीद ज्यादा नहीं है.