रोहित शर्मा फिर फ्लॉप, पीटर हैंड्सकॉम्ब का खूबसूरत कैच देखते रह जाएंगे आप

 ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहली पारी में ‘गैरजिम्मेदाराना’ शॉट खेलकर आउट होने के बाद रोहित शर्मा के पास दूसरी पारी में खुद को साबित करने का मौका था. रोहित शर्मा दूसरी पारी में अपनी गलती को नहीं सुधार पाए और एक बार फिर से फ्लॉप साबित हुए. दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दो टेस्ट खेलने के बाद ड्रॉप हुए रोहित शर्मा ने 10 महीने बाद टेस्ट टीम में एंट्री की है. लेकिन पहले ही मैच में वह इस मौके को भुनाने में नाकाम साबित हुए हैं.

प्रैक्टिस मैच में हनुमा विहारी को खिलाए जाने के बाद एडिलेड में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच में रोहित शर्मा को तरजीह दी गई. लेकिन मैच की दोनों ही पारियों में वह फ्लॉप रहे. जहां पहली पारी में रोहित शर्मा ‘गैरजिम्मेदाराना’ शॉट खेलकर 37 रन बनाकर आउट हुए. वहीं, दूसरी पारी में वह मात्र एक ही रन बना पाए और पवेलियन लौट गए.

ओवल में पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन रोहित शर्मा महज एक रन बनाकर आउट हो गए. नाथन लॉयन ने पीटर हैंड्सकॉम्ब के हाथों उन्हें कैच आउट कराया. क्लोजिंग फील्डर के लिए कैच पकड़ना कभी भी आसान नहीं होता, खासतौर पर सिली प्वाइंट पर.

रोहित शर्मा, नाथन लॉयन की ऑफ ब्रेक गेंद पर चकमा खा गए. गेंद पहले उनके पैड पर लगी और फिर बल्ले से लगती हुई हैंड्सकॉम्ब के हाथ में पहुंच गई. हैंड्सकॉम्ब ने एक हाथ से बेहद खूबसूरत कैच पकड़ा. रोहित के एक रन पर आउट होने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल किया गया. यूजर्स ने यहां तक कहा कि रोहित शर्मा का यह कैसा क्रिकेट है.

सोशल मीडिया पर रोहित शर्मा को जमकर ट्रोल किया जा रहा है. यूजर्स का कहना है कि रोहित शर्मा टेस्ट क्रिकेट के लिए ही नहीं बने हैं. वहीं, कुछ फैन्स का कहना है कि रोहित शर्मा करुण नायर और हनुमा विहारी का टेस्ट करियर बर्बाद कर रहे हैं.

Tweet

बता दें कि पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में रोहित शर्मा जिस तरह से आउट हुए थे. उसकी जमकर आलोचना की गई थी. रोहित शर्मा के आउट होने पर इयान चैपन ने कहा, ”यह सिर्फ अपनी क्षमताओं को बर्बाद करना है. मेरे लिए यह उनके टेस्ट करियर का अंत है. हो सकता है कि बहुत से लोग उनकी इस बात से सहमत न हों, क्योंकि हर व्यक्ति के जीवन में पहली बार आता है. लेकिन जिस तरह से रोहित टेस्ट मैच के पहले दिन आउट हुए उन्होंने निराशा पैदा की है.”

बता दें कि यह पहला मौका नहीं था कि जब रोहित शर्मा विदेशी पिचों पर इस तरह आउट हुए हैं. उनके आउट होने के तरीके को देख कर आप यह सोचने के लिए मजबूर हो सकते हैं कि रोहित की तकनीक में ही खराबी है. दक्षिण अफ्रीका दौरे पर दो टेस्ट मैच खेलने के बाद ड्रॉप किए गए टीम इंडिया के ओपनर रोहित शर्मा ने एक बार फिर से 10 महीने बाद टेस्ट टीम में अपनी जगह बनाई थी.