INDvsAUS: भारत ने एडिलेड टेस्ट जीता, सीरीज में 1-0 से आगे; पुजारा रहे जीत के हीरो

 भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच टेस्ट सीरीज का पहला मैच जीतकर टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रच दिया है. 71 साल के इतिहास में पहली बार है जब टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में कभी किसी टेस्ट सीरीज का पहला टेस्ट जीता है. टीम इंडिया ने चौथे दिन ही ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 का लक्ष्य दिया था जिससे ऑस्ट्रेलियाई टीम हासिल नहीं कर सकी और पूरी टीम 291 रन पर सिमट गई और टीम इंडिया ने यह मैच 31 रन से जीत लिया.

अश्विन ने लिया आखिरी विकेट
भारत के लिए आखिरी विकेट अश्विन ने लिया. अश्विन ने 120वें ओवर में जोश हेजलुवड का विकेट लेकर ऑस्ट्रेलिया की पारी 291 रन पर समेट दी. हेजलवुड को केएल राहुल ने 13 रन के निजी स्कोर पर कैच किया.

टीम इंडिया अब जीत से एक विकेट, ऑस्ट्रेलिया 64 रन दूर
ऑस्ट्रेलिया का 9वां विकेट जसप्रीत बुमराह ने लिया. बुमराह ने पैट कमिंस को स्लिप पर कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच आउट कराया.  कमिंस 28 रन बनाकरआउट हुए. अब भारत को जीत के लिए केवल एक विकेट की जरूरत है जबकि ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 64 रन और बनाने हैं और अभी मैच तके 37 ओवर बाकी हैं.

मिचेल स्टार्क को आउट होने पर ऋषभ पंत ने हासिल का यह मुकाम
ऑस्ट्रेलिया के निचले क्रम से टीम इंडिया को मजबूत चुनौती मिल रही थी तभी मोहम्मद शमी ने टीम इंडिया को एक सफलता दिला दी और मिचेल स्टार्क को विकेट के पीछे कैच आउट करा दिया. स्टार्क ने 34 गेंदों में 15 रन बनाए. इसके साथ ही ऋषभ पंत ने इस मैच में अपने 11 कैच पूरे कर लिए और एक टेस्ट में विकेटकीपर के लिए गए सबसे ज्यादा कैचों की बराबरी कर ली. अब तक यह उपलब्धि इंग्लैंड के जैक रसल और दक्षिण अफ्रीका के एबी डि विलियर्स के नाम थी. अब इस सूची में पंत का नाम भी जुड़ गया है.

जीत से ऑस्ट्रेलिया 99 रन, और भारत तीन विकेट दूर
टीम पेन के विकेट के बाद मिचेल स्टार्क और पैट कमिंस  ने पारी को संभाल लिया और 98 ओवर के बाद टीम का स्कोर 224 कर दिया जिससे अब टीम जीत से केवल 99 रन दूर रह गई. दोनोंं ने तक तक 37 रनों की साझेदारी कर ली थी.

टिम  पेन के रूप में गिरा ऑस्ट्रेलिया का 7वां विकेट
लंच के बाद टीम इंडिया को सफलता टिम पेन के विकेट के रूप में मिली. लंच के बाद पारी के दूसरे ओवर में बुमराह ने पहली ही गेंद पर टिम पेन ने विकेट के पीछे ऋषभ पंत के हाथों कैच आउट करा दिया. टीम पेन ने 73 गेंदों में चार चौकों की मदद से 41 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया 187/7 (85 ओवर)

लंच-ब्रेक के बाद खेल शुरू
लंच ब्रेक के बाद खेल शुरू हो गया है. अश्विन गेंदबाजी कर रहे हैं. टिम पैन और कमिंस क्रीज पर हैं.

लंच ब्रेक: पांचवें दिन के पहले ब्रेक (लंच-ब्रेक) के समय ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट पर 186 रन बना लिए हैं. इस तरह अब वह लक्ष्य से 137 रन दूर है. भारत को जीतने के लिए अभी चार विकेट और लेने होंगे.

पहले सेशन में 82 रन बने, 2 विकेट गिरे
लंच-ब्रेक: ऑस्ट्रेलिया ने पांचवें दिन के पहले सेशन में 82 रन बनाए और दो विकेट गंवाए. टिम पैन 40 और कमिंस पांच रन बनाकर खेल रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया 186/6 (83 ओवर)

भारत ने नई गेंद ली 
भारत ने 80 ओवर का खेल होते ही नई गेंद ले ली है. इशांत शर्मा ने नई गेंद से पहला ओवर डाला. ऑस्ट्रेलिया 181/6 (80 ओवर)

कमिंस ने डीआरएस लेकर विकेट बचाया 
भारत का डीआरएस नाकाम रहने के दो गेंद बाद ही अश्विन ने कमिंस को शॉर्ट लेग पर कैच करवा दिया है. लेकिन कमिंस को भरोसा है कि वे आउट नहीं है. उन्होंने डीआरएस लिया, जिससे उनका विकेट बच गया है. मैदानी अंपायर ने आउट देने के अपने फैसले को बदल लिया है. इस तरह एक ही ओवर में दो डीआरएस लिए गए. दोनों ही बार फैसला ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में गया. ऑस्ट्रेलिया 157/6 (73.6 ओवर) 

भारत ने डीआरएस लिया, नहीं मिला विकेट   
अश्विन ने कमिंस के खिलाफ कैच की अपील की. अंपायर ने आउट नहीं दिया. अश्विन को विकेट मिलने का भरोसा है. उनके भरोसे को देखते हुए कप्तान विराट कोहली ने डीआरएस ले लिया है. हालांकि, तीसरे अंपायर ने कमिंस को नॉट आउट दिया है. ऑस्ट्रेलिया 157/6 (73.3 ओवर) 

बुमराह ने मार्श को आउट किया
जब ऐसा लग रहा था कि शॉन मार्श भारत के लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं और ऑस्ट्रेलिया उन्हें बड़ी उम्मीद से देख रहा था, तभी बुमराह ने उनका शिकार कर लिया है. जसप्रीत बुमराह की बेहतरीन गेंद शॉन मार्श के बैट का किनारा लेकर पंत के दस्तानों में समा गई. और इसके साथ ही ऑस्ट्रेलिया की उम्मीद को बड़ा झटका लगा. ऑस्ट्रेलिया 156/6 (72.1 ओवर) 

कोहली ने मुरली विजय को सौंपी गेंद 
कप्तान कोहली ने अब मुरली विजय को गेंद सौंप दी है. विजय ऑफ स्पिन गेंदबाजी करते हैं. उन्हें पार्टटाइम गेंदबाज कहना भी सही नहीं होगा क्योंकि उन्होंने 59 टेस्ट के करियर में सिर्फ एक विकेट लिया है. उनका इस्तेमाल सिर्फ अपने मुख्य गेंदबाज को आराम देने के लिए किया जा सकता है. कोहली शायद यही कर रहे हैं और उन्होंने अश्विन को रेस्ट दिया है.

बुमराह ने संभाली गेंद 
शुरुआती घंटे में ज्यादा कामयाबी नहीं मिलने के बाद कप्तान कोहली ने जसप्रीत बुमराह को गेंद सौंप दी है. उन्होंने पहले ओवर में दो रन दिए. ऑस्ट्रेलिया 152/5 (69 ओवर) 

शॉन मार्श की फिफ्टी, ऑस्ट्रेलिया के 150 रन पूरे
ऑस्ट्रेलिया ने 68 ओवर में 150 रन बना  लिए हैं. शॉन मार्श 57 और टिम पैन 13 रन बनाकर खेल रहे हैं. ऑस्ट्रेलिया 150/5 (68 ओवर) 

शॉन मार्श ने संभाला ऑस्ट्रेलिया का मोर्चा
शॉन मार्श ने अश्विन की गेंद को पुल कर चौका जमाया. इसके साथ ही उन्होंने अपना अर्धशतक पूरा कर लिया. यह चौथी पारी में उनका पहला अर्धशतक है. ऑस्ट्रेलिया 139/5 (66 ओवर)

पहले घंटे में ऑस्ट्रेलिया का अच्छा प्रदर्शन 
पहले घंटे में ऑस्ट्रेलिया से उम्मीद से अच्छा प्रदर्शन किया है. उसने इस दौरान 16 ओवर में 31 रन बनाए और एक विकेट गंवाया. शॉन मार्श 49 और कप्तान टिम पैन सात रन बनाकर नाबाद हैं.  ऑस्ट्रेलिया 135/5 (65 ओवर) 

बैटिंग के लिए अच्छी है पिच: मार्क वॉ 
पांचवें दिन का खेल शुरू होने से ठीक पहले मार्क वॉ ने पिच रिपोर्ट में कहा कि यह अब भी बैटिंग के लिए अच्छी है. पिच का मुख्य हिस्सा खराब नहीं हुआ है. अगर बल्लेबाज अच्छी बैटिंग करें और उन्हें किस्मत की भी थोड़ी-बहुत मदद मिले तो ऑस्ट्रेलिया की जीत संभव है. इसके लिए जरूरी है कि बल्लेबाज एक-दो रन लेते रहें. गेंद  50 ओवर के बाद सॉफ्ट हो चुकी. इसलिए भी बैटिंग कुछ आसान हो जाएगी.

पांचवें दिन 11 ओवर के बाद पहला बॉलिंग चेंज 
भारत ने पांचवें दिन गेंदबाजी में पहला बदलाव कर दिया है. कप्तान कोहली ने इशांत शर्मा की जगह मोहम्मद शमी को गेंद थमाई है.ऑस्ट्रेलिया 124/5 (60 ओवर)

पांचवें दिन 10 ओवर में 15 रन बने 
ऑस्ट्रेलिया ने पांचवे दिन 10 ओवर की बैटिंग कर ली है. उसने इस दौरान 15 रन बनाए और ट्रेविस हेड का विकेट भी गंवा दिया.  ऑस्ट्रेलिया 119/5 (59 ओवर) 

इशांत शर्मा ने पांचवें दिन भारत को पहली कामयाबी दिलाई 
भारत को पांचवें दिन की पहली और ओवरऑल दूसरी कामयाबी मिल गई है. ट्रेविस हेड, भारतीय गेंदबाज इशांत शर्मा का बाउंसर नहीं झेल सके. उन्होंने इसे अजीबो-गरीब ढंग से खेला. गेंद गली पर खड़े रहाणे के पास गई, जिन्होंने इसे लड्डू की तरह लपक लिया. ऑस्ट्रेलिया 115/5 (56.4 ओवर) 

शॉन मार्श ने दिया मौका, भारत ने गंवाया  
54वें ओवर की चौथी गेंद पर भारत को एक मौका मिला था, लेकिन टीम इसके लिए तैयार नहीं थी. दरअसल, भारत ने अश्विन की गेंदबाजी में शार्ट लेग पर फील्डर नहीं रखा था. शॉन मार्श ने डिफेंसिव पुश शॉर्ट लेग पर ही गया, लेकिन वहां कोई फील्डर नहीं था. इस गेंद के बाद ही कप्तान विराट कोहली ने एक फील्डर शॉर्ट लेग पर भी खड़ा कर दिया है. अब अश्विन की गेंदबाजी पर तीन करीबी फील्डर हैं- स्लिप, शॉर्ट लेग और सिली मिडऑफ पर. ऑस्ट्रेलिया 110/4 (53.4 ओवर) 

अश्विन ने शुरू की गेंदबाजी 
पांचवें दिन के खेल में गेंदबाजी की शुरुआत की है. उन्होंने पहला ओवर मेडन फेंका. उनका साथ देने के लिए दूसरे छोर से इशांत शर्मा ने गेंद संभाली. ऑस्ट्रेलिया ने इशांत शर्मा के ओवर में तीन रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया 107/4 (51 ओवर) 

 

Virat Kohli Reuters 654
भारत अगर यह मैच जीत लेता है, तो विराट कोहली ऑस्ट्रेलिया में पहला टेस्ट जीतने वाले भारत के पहले कप्तान बन जाएंगे. (फोटो: Reuters) 

चौथा दिन: ऑस्ट्रेलिया को 323 रन का लक्ष्य
चौथे दिन भारत ने 3 विकेट पर 151 रन से आगे खेलना शुरू किया. उसकी दूसरी पारी 307 रन पर खत्म हुई. उसे पहली पारी में 15 रन की बढ़त हासिल थी. इस तरह ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रन का लक्ष्य मिला. ऑस्ट्रेलिया ने दिन का खेल खत्म होने तक चार विकेट पर 104 रन बना लिए थे. वह पांचवें दिन का खेल शुरू होने से पहले जीत से 219 रन दूर था. भारत को जीत के लिए छह विकेट और चाहिए था.

तीसरा दिन: बारिश से प्रभावित खेल में भारत हावी रहा 
तीसरे दिन बारिश के कारण देर से खेल शुरू हुआ. तीन बार खेल रोका भी गया. लेकिन इससे भारतीय टीम के प्रदर्शन पर ज्यादा असर नहीं पड़ा. उसने पहले ऑस्ट्रेलिया को 235 रन पर आउट कर पहली पारी में 15 रन की बढ़त ली. इसके बाद अपनी दूसरी पारी में तीन विकेट पर तीन विकेट पर 151 रन बना लिए. खेल रोके जाने के समय चेतेश्वर पुजारा 40 और अजिंक्य रहाणे 1 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे.

दूसरा दिन: गेंदबाजों ने कराई भारत की वापसी 
भारतीय टीम दूसरे दिन की पहली गेंद पर 250 रन पर आउट हो गई. यह बड़ा स्कोर नहीं था. ऐसे में भारत को मैच में बनाए रखने का दारोमदार गेंदबाजों पर था. भारतीय गेंदबाजों ने अपनी टीम और प्रशंसकों को निराश भी नहीं किया. भारतीय टीम ने 127 रन पर ऑस्ट्रेलिया की आधी टीम को पवेलियन भेज दिया था. हालांकि, ट्रेविस हेड ने अर्धशतक लगाकर ऑस्ट्रेलिया की काफी हद तक वापसी करा दी. दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने 7 विकेट पर 191 रन बना लिए थे. ट्रेविस हेड 61 और मिचेल स्टार्क 8 रन बनाकर नाबाद थे. भारत की ओर से रविचंद्रन अश्विन तीन और इशांत शर्मा व जसप्रीत बुमराह दो-दो विकेट ले चुके थे.

पहला दिन: चेतेश्वर पुजारा का शतक 
एडिलेड टेस्ट के पहला दिन चेतेश्वर पुजारा के नाम रहा. वे जब बैटिंग करने आए तो टीम का स्कोर एक विकेट पर तीन रन था. पुजारा ने यहां पारी संभाली. एक छोर पर विकेट गिरते रहे और दूसरे छोर पर पुजारा डटे रहे. वे पहले दिन आउट होने वाले आखिरी बल्लेबाज रहे. उनके आउट होने पर दिन का खेल रोक दिया गया. उस वक्त टीम इंडिया का स्कोर 9 विकेट पर 250 रन था. पुजारा ने आउट होने से पहले 123 रन की पारी खेली. यह उनका 16वां शतक है. यह ऑस्ट्रेलिया में उनका पहला और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ओवरऑल तीसरा शतक है