INDvsAUS: गावस्कर की सलाह- छोड़ना मत, रवि शास्त्री का जवाब- बिलकुल नहीं छोड़ेंगे, लेकिन…

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज का पहला मैच जीतकर 71 साल का इतिहास बदल दिया है. विराट कोहली की अगुवाई में टीम इंडिया ने एडिलेड टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 31 रन से हराया. जीत के बाद कोच रवि शास्त्री ने कॉमेंटेटर और पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर, माइकल क्लार्क और मार्क बाउचर से बात की. उन्होंने इस बातचीत में टीम के प्लान के बारे में कई खुलासे किए.

रवि शास्त्री और पूर्व क्रिकेटरों की इस बातचीत का सोनी सिक्स चैनल ने सीधा प्रसारण किया. इस दौरान माइकल क्लार्क ने रवि शास्त्री से कई सवाल किए. लेकिन रवि शास्त्री के पहले कप्तान रहे सुनील गावस्कर ने उनसे कोई सवाल नहीं किया. उन्होंने कहा, ‘रवि, पहले तो इस जीत के लिए बधाई. मैं आपसे कोई सवाल नहीं करना चाहता. मैं तो आपको सिर्फ एक बात बताना चाहता हूं. मुझे नहीं पता कि आपको पता है कि नहीं, लेकिन यहां एक टैगलाइन चल रही है. तो मैं सिर्फ यही कहना चाहता हूं कि छोड़ना मत.’ रवि शास्त्री ने इस सवाल का जवाब भी इसी अंदाज में दिया. उन्होंने कहा, ‘सनी भाई, मैंने अभी कुछ देर पहले ही हिंदी में एक बात कही थी. बिलकुल छोड़ेंगे नहीं, लेकिन आखिरी समय में हालत खराब (अपशब्द, जिसे हम लिख नहीं सकते) होने लगी थी.’

अब ऑस्ट्रेलिया पर बढ़ेगा दबाव 
सुनील गावस्कर ने इस दौरान मार्क बाउचर के एक सवाल पर कहा कि इस मैच के बाद ऑस्ट्रेलिया की टीम पर दबाव बढ़ जाएगा. टीम को अपने प्लेइंग इलेवन के बारे में फिर से विचार करना पड़ेगा. उसे सोचना होगा कि उसकी ओपनिंग जोड़ी सही है या नहीं या तीसरे नंबर पर कौन खेले? भारतीय टीम इस दबाव का फायदा उठा सकती है.

भारत का हर गेंदबाज मैचविनर है
सुनील गावस्कर ने पांचवें दिन का खेल शुरू होने से पहले ही टीम की जीत का भरोसा जताया था. उन्होंने कहा, ‘जब किसी टीम में चार गेंदबाज हों तो वे ऐसे होने चाहिए कि उनमें से कोई भी पांच विकेट ले सकें. भारत की टीम में खेल रहे चारों गेंदबाज ऐसे ही हैं. इसीलिए भारत ने गेंदबाजी में पूरे साल अच्छा प्रदर्शन किया है. खासकर वे विदेशों में भी प्रभावशाली रहे हैं. भारत की इस गेंदबाजी को देखते हुए भारत को यह मैच जीतने में मुश्किल नहीं होनी चाहिए.’