Asian Games 2018: नीरज चोपड़ा ने जेवलिन थ्रो में जीता गोल्ड, ऐसा करने वाले पहले भारतीय

जकार्ता। जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने 18वें एशियन गेम्स में भारत को गोल्ड मेडल दिलाया. उन्होंने सोमवार को 88.06 की थ्रो के साथ यह मेडल जीता. वे एशियन गेम्स के जेवलिन थ्रो में यह मेडल जीतने वाले पहले भारतीय हैं. 20 साल के नीरज चोपड़ा गेम्स की ओपनिंग सेरेमनी में भारत के फ्लैगबियरर थे.

नीरज ने 83.46 के थ्रो के साथ की शुरुआत
नीरज चोपड़ा शुरू से ही इस इवेंट के गोल्ड मेडल के दावेदार थे. उन्होंने शुरुआत भी चैंपियन वाले अंदाज में की. नीरज ने पहला थ्रो 83.46 मीटर का किया. उनका दूसरा थ्रो फाउल हो गया. भारतीय एथलीट ने इसकी भरपाई तीसरे थ्रो में की और 88.06 की थ्रो के साथ गोल्ड पक्का कर लिया. उन्होंने चौथे और पांचवें थ्रो क्रमश: 83.25 और 86.36 मीटर रहा. उनके अलावा कोई भी एथलीट 83 मीटर की दूरी तक जेवलिन थ्रो नहीं कर सका.

चीन ने सिल्वर और पाकिस्तान ने जीता ब्रॉन्ज मेडल
चीन के लियू क्विझेन ने जेवलिन थ्रो इवेंट का सिल्वर मेडल जीता. उन्होंने 82.22 मीटर की दूरी तक भाला फेंका. ब्रॉन्ज मेडल पाकिस्तान के अरशद नदीम नाम रहा. उन्होंने 80.75 की दूरी के साथ यह मेडल अपने नाम किया. यह पाकिस्तान का तीसरा मेडल है. उसने दो सिल्वर मेडल भी जीता है.

कॉमनवेल्थ गेम्स के चैंपियन भी हैं नीरज
हरियाणा के नीरज दो साल के भीतर अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप से लेकर कॉमनवेल्थ गेम्स तक भारत के लिए मेडल जीत चुके हैं. उन्होंने इसी साल अप्रैल में 86.47 मीटर के साथ गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था. इससे पहले वे 2016 में पोलैंड में अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में 86.48 मीटर की थ्रो के साथ चैंपियन बने थे. इसके अलावा एशियन चैंपियनशिप भी जीत चुके हैं.

भारत के आठ गोल्ड समेत 41 मेडल
20 साल के नीरज चोपड़ा ने भारत के लिए आठवां गोल्ड जीता. यह ओवरऑल भारत का 41वां मेडल है. इसमें 13 सिल्वर और 20 ब्रॉन्ज मेडल भी शामिल हैं. भारत ने अब तक एथलेटिक्स में कुल 8 मेडल जीत हैं. इनमें दो गोल्ड भी शामिल हैं. एक दिन पहले तेजिंदर पाल सिंह तूर ने शॉट पुट में गोल्ड मेडल जीता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *