INDvsAUS: पर्थ की तेज पिच पर टॉस हारने पर विराट क्यों बोले, हम भी बल्लेबाजी ही चुनते

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच चार टेस्ट मैचों की सीरीज के दूसरे मैच में पर्थ के नए स्टेडियम, ऑप्टिस में दोनों टीमों के बीच मुकाबला शुक्रवार से शुरू हो गया है. ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया है. टॉस हारने के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली कहा कि अगर वे टॉस जीतते तो वे भी पहले बल्लेबाजी करना ही पसंद करते. इससे पहले चर्चा थी कि पर्थ के इस नए ऑप्टस मैदान की पिच वाका की ही तरह तेज पिच होगी. विराट कोहली ने भी पिच की तेजी पर खुशी जताई थी.

कोहली ने टॉस हारने के बाद कहा के वे भी बल्लेबाजी ही करते अगर टॉस जीतते. पहले दिन इस विकेट पर गेंदबाजी करना बुरा नहीं है, जहां काफी घास है. हम जो भी करने जा रहे हैं, उससे खुश हैं. मैने देखा है कि यहां हुए एक वनडे में गेंदबाजों के लिए काफी कुछ था. गेंदबाजी टीम होने के नाते इस बात से काफी उत्साहित हूं. हम कोशिश करेंगे कि गेंद से कुछ बढ़िया निकाल सकें. यह पहला टेस्ट हैं यहां, लेकिन हमारे लिए एक और टेस्ट ही है. हम संतुष्ट नहीं हैं. हमें दूसरी जीत के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी. हम पिछले मैच का केवल विश्वास लेकर आए हैं स्कोरलाइन नहीं.”

रोहित-अश्विन की जगह विहारी-उमेश को किया है शामिल
टीम इंडिया में इस टेस्ट मैच में रोहित शर्मा और रविचंद्रन अश्विन की जगह हनुमा विहारी और उमेश यादव को लिया गया है. बीसीसीआई ने गुरुवार को ही इस बात की जानकारी दे दी थी कि इन दोनों खिलाड़ियों को चोट की वजह से अंतिम 13 में शामिल नहीं किया गया है. वहीं ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे टेस्ट के लिए टीम में कोई बदलाव नहीं किया है.

पिच को देखकर काफी रोमांचित हुए थे विराट
इस नए टेस्ट मैदान की पिच पर हरी घास देखकर भारतीय टीम चिंतित नहीं हुई बल्कि उसने इसके मौके के रूप में देखा है. कप्तान कोहली यह देखकर रोमांचित हैं. भारत के पास तेज गेंदबाजी में सक्षम आक्रमण है और इसलिए कोहली ने पिच को देखकर कहा था, ‘‘हम यहां की जीवंत पिच देखकर चिंतित होने के बजाय रोमांचित हैं.’’ क्यूरेटर ब्रेट सिपथोर्प ने उछाल वाली पिच तैयार करने की कोशिश की. ऑस्ट्रेलिया का यह दांव उस पर उलटा पड़ सकता है.  भारत ने एडीलेड में पहला टेस्ट मैच 31 रन से जीता था.