टेनिस: डेविस कप में इटली को हराने का यह सबसे अच्छा मौका: भूपति

भारतीय टेनिस डेविस टीम के कप्तान महेश भूपति ने कहा है कि डेविस कप-2019 के क्वालिफाइंग मुकाबले में इटली को हराने के लिए भारत के पास यह सबसे अच्छा मौका है. डेविस कप की शुरुआत अगले साल एक फरवरी से साउथ क्लब में होगी. भूपति ने यहां जयदीप मुखर्जी टेनिस एकेडमी में प्रेमजीत लाल इनविटेशनल टेनिस टूर्नामेंट के दौरान यह बात कही.

44 वर्षीय महेश भूपति ने कहा, ‘हमारे पास यह सबसे अच्छा मौका है. इसलिए हम इतने करीब आए हैं. इस समय हमारे पास जो टीम है, उनमें से कई खिलाड़ियों को ग्रास कोर्ट रास आता है और हम वापसी करने से खुश होंगे.’रामकुमार रामनाथन इस बार अपने पहले एटीपी वर्ल्ड टूर फाइनल में उपविजेता रहे थे. वहीं, प्रज्नेश ने वर्ल्ड नंबर 23 डेनिस शापोवालोव को हराया था.

डेविस कप इस बार नए प्रारूप में खेला जाएगा, जिसमें छह खिलाड़ियों की टीम दो दिनों तक तीन सेटों के मैच खेलेंगे. डेविस कप के इस नए प्रारूप के बारे में पूछे जाने पर भूपति ने कहा, ‘मैं एक कप्तान के रूप में नियमों का पालन करता हूं और हमारी टीम चाहेगी कि नियमों का पालन करते हुए मैच जीता जाए.’

साउथ क्लब में लगभग 16 साल बाद मैच होने वाला है. भूपति ने कहा कि उन्होंने यहीं से पदार्पण किया था और यहां लौटना उनके लिए खास होगा. कप्तान ने कहा, ‘घर में हम बड़ा खेलने को लेकर उत्साहित हैं. कोलकाता हमेशा से मेरे लिए खास रहा है जहां मैंने पदार्पण किया था.’

स्विट्जरलैंड के स्टार खिलाड़ी रोजर फेडरर से जुड़े एक सवाल पर भूपति ने कहा कि ऑस्ट्रेलियन ओपन से पहले रोजर फेडरर संन्यास नहीं लेंगे. उन्होंने कहा, ‘चार साल पहले लोगों ने मुझसे कहा था कि अब कभी दोबारा ग्रैंड स्लैम नहीं जीत सकते और तब से लेकर उन्होंने तीन बार खिताब जीता है.