विराट ने गांगुली को पीछे छोड़ा, अब विश्वनाथ और गावस्कर निशाने पर

अपनी हर पारी में कुछ नया कर गुजरने वाले विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ (India vs Australia) सबसे अधिक रन बनाने के मामले में सौरव गांगुली को पीछे छोड़ दिया है. उन्होंने पर्थ में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट (Perth Test) के दूसरे दिन 82 रन की नाबाद पारी खेली. उन्होंने अपनी इस पारी से ना सिर्फ भारत की मैच में वापसी कराई, बल्कि उसे मजबूत स्थिति में भी पहुंचा दिया. इसी के साथ उन्होंने 2018 में अपने कुछ रिकॉर्ड को और बेहतर कर लिया. इसके अलावा सौरव गांगुली को भी पीछे छोड़ दिया.

भारतीय कप्तान विराट कोहली जब बैटिंग करने उतरे तो उनके नाम 74 टेस्ट में 6368 रन दर्ज थे. जब वे मैदान पर पहुंचे तब टीम का स्कोर दो विकेट पर आठ रन था. कप्तान कोहली ने यहां से मिस्टर भरोसेमंद चेतेश्वर पुजारा के साथ 74 और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे के साथ 90 रन की साझेदारी कर टीम को मजबूत स्कोर पर पहुंचा दिया. जब दिन का खेल रोका गया तो भारतीय टीम का स्कोर 3 विकेट पर 172 रन था. ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 326 रन बनाए हैं.

तेज शुरुआत के बाद सधी पारी 
विराट जब बैटिंग करने उतरे, तब आस्ट्रेलियाई गेंदबाज भारतीय बल्लेबाजों पर हावी थे. वे लगातार आक्रमण कर रहे थे. ऐसे में विराट ने काउंटर अटैक का तरीका अपनाया. उन्होंने पैट कमिंस के एक ओवर में तीन चौके ठोक दिए. विराट कोहली ने एक समय महज 12 गेंद पर 19 रन बना लिए थे. हालांकि, जल्दी ही उन्होंने अपने खेल का गियर बदला और अच्छी शुरुआत को भुनाने के लिए संयमित पारी खेलने लगे. जब खेल खत्म हुआ तब 181 गेंद पर 82 रन बनाकर नाबाद थे.

 

20वां अर्धशतक लगाकर तोड़ा गांगुली का रिकॉर्ड 
विराट कोहली ने अपनी इस पारी के दौरान टेस्ट करियर का 20वां अर्धशतक लगाया. उन्होंने इस  पारी के साथ ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे अधिक रन बनाने के मामले में सौरव गांगुली को पीछे छोड़ दिया. विराट ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अब तक 17 मैच में 51.46 की औसत से 1441 रन बनाए हैं. सौरव गांगुली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 24 मैच में 35.07 की औसत से 1403 रन बनाए हैं.

अब विश्वनाथ और गावस्कर निशाने पर 
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सबसे अधिक रन बनाने वाले भारतीय क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर हैं. उन्होंने इस टीम के खिलाफ 39 मैच में 55.00 की औसत से 3630 रन बनाए हैं. विराट कोहली, सचिन के रिकॉर्ड से अभी काफी दूर हैं. लेकिन वे इस मामले में जल्दी ही गुंडप्पा विश्वनाथ और सुनील गावस्कर को पीछे छोड़ सकते हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विश्वनाथ ने 18 मैच में 1538 और गावस्कर ने 20 मैच में 1550 रन बनाए हैं. वीवीएस लक्ष्मण (2434), राहुल द्रविड़ (2143) और वीरेंद्र सहवाग (1738) ने भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ विराट से अधिक रन बनाए हैं.