उच्च शिक्षा के लिए बिहार में लड़कियों को एक प्रतिशत ब्याज पर मिलेगा लोन : नीतीश कुमार

मोतिहारी/पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रविवार को मोतिहारी में लड़कियों के लिए अहम घोषणा करते हुए कहा कि उच्च शिक्षा के लिए एक प्रतिशत ब्याज पर लोन दिए जाएंगे. साथ ही उन्होंने कहा, ‘राज्य के सभी जिलों में इंजीनियरिंग और अनुमंडलों में एएनएम के साथ आईटीआई कॉलेज खुलेंगे. लड़कियों के लिए अलग से आईटीआई खोलने की प्रक्रिया भी चल रही है.’

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में पांच नये मेडिकल कॉलेज खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. उन्होंने राज्य के पहले डिजिटल पंचायत सरकार भवन का उद‍्घाटन भी किया. नीतीश कुमार रविवार को मोतिहारी के हरसिद्धि में महावीर रामेश्वर इंटर कॉलेज परिसर में महावीर प्रसाद और रामेश्वर महतो की प्रतिमा के अनावरण के बाद जनसभा को संबोधित कर रहे थे.

उच्च शिक्षा के लिए लड़कियों को एक प्रतिशत ब्याज पर लोन
सीएम ने कहा कि 2003 में मिडिल स्कूल जाने वाली लड़कियों की संख्या एक लाख 70 हजार थी. आज नौ लाख है. उच्च शिक्षा में बिहार की स्थिति खराब थी. बिहार के 13 फीसदी छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षा ग्रहण कर पाते थे. हमने बिहार के लिए 30 प्रतिशत का लक्ष्य रखा है. इसमें लड़कियों के लिए कई प्रावधान किये हैं. लड़कियां यदि उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहें, तो स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के माध्यम से एक प्रतिशत ब्याज पर लोन दिया जायेगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लड़कियों के साथ-साथ दिव्यांग और थर्ड्र जेंडर के बच्चों को भी एक प्रतिशत की ब्याज दर पर लोन मिलेगा. अन्य छात्र-छात्राओं के लिए ब्याज का दर चार प्रतिशत है. उन्होंने कहा कि युवाओं को कुशल बनाने के लिए कुशल युवा केंद्र की स्थापना की गई है. युवाओं को जब तक रोजगार नहीं मिलेगा, तब तक प्रदेश आगे नहीं बढ़ेगा.