भारत बाकी टेस्ट मैच भी हारता है तो विराट और शास्त्री की भूमिका की समीक्षा हो : सुनील गावस्कर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा है कि अगर भारत आस्ट्रेलिया के खिलाफ बाकी बचे दो टेस्ट मैचों में जीत दर्ज करने में नाकाम रहता है तो विराट कोहली और रवि शास्त्री की कप्तान और कोच के रूप में भूमिका की समीक्षा की जानी चाहिए. गावस्कर ने सलामी बल्लेबाज केएल राहुल के प्रदर्शन पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि उन्हें स्वदेश भेजना चाहिए ताकि वह घरेलू क्रिकेट में कर्नाटक के लिए खेल सकें, वह केवल फार्म में ही नहीं हैं बल्कि वह किसी भी समय खेल में नहीं दिख रहे हैं.

पर्थ में अॉस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की हार के बाद सुनील गावस्कर ने कहा, ‘दक्षिण अफ्रीका दौरे से ही चयन को लेकर बड़ी चूक की जा रही है. अगर सही चयन किया जाता तो टीम इन मैचों को जीत सकती थी.’ गावस्कर ने मीडिया से बातचीत में यह भी कहा, ‘अगर भारत स्टीव स्मिथ और डेविड वार्नर के बिना खेल रही आस्ट्रेलियाई टीम के खिलाफ भी जीत दर्ज नहीं कर पाता है तो फिर चयनकर्ताओं को विचार करने की जरूरत है क्या हमें वर्तमान कप्तान, कोच और सहयोगी स्टाफ से कोई फायदा मिल रहा है.’

गावस्कर ने टीम में अधिक खिलाड़ियों को रखने पर भी सवाल उठाये. उन्होंने कहा, ‘मैं यह जानना चाहता हूं कि किसने 19 खिलाड़ियों को ले जाने की अनुमति दी. बीसीसीआई तो बेहद धनी संस्था है. वह 40 खिलाड़ियों को भी भेज सकता है. लेकिन भारतीय कैप, भारतीय ब्लेजर बेहद महत्वपूर्ण हैं. वहां 19 खिलाड़ियों को भेजकर मुझे लगता है कि चयन समिति अपनी जिम्मेदारी सही तरह से नहीं निभा रही है.’