SLvsNZ: मेंडिस-मैथ्यूज के रिकॉर्ड और बारिश ने टाली श्रीलंका की हार, मैच ड्रॉ

श्रीलंका और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच ड्रॉ रहा. मैच के पांचवें दिन बुधवार को बारिश के कारण केवल 13 ओवर का ही खेल हो पाया. पांचवें दिन दूसरी पारी में मेहमान टीम का स्कोर तीन विकेट के नुकसान पर 287 रन रहा. चौथे दिन शानदार बल्लेबाजी करते हुए रिकॉर्ड साझेदारी करने वाले कुसल मेंडिस (141 नाबाद) और एंजेलो मैथ्यूज (120 नाबाद) ने अंतिम दिन भी संभलकर बल्लेबाजी की और विकेट नहीं गिरने दिया. सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच 26 दिसंबर को क्राइस्टचर्च में खेला जाएगा.

श्रीलंका की पहली पारी 282 रन पर ही सिमट गई थी. इसके जवाब में मेजबान टीम ने 578 रन बनाए. न्यूजीलैंड के ओपनर टॉम लाथम ने 264 रन की नाबाद पारी खेली. इसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया. लाथम ने 264 रन का पारी खेलने के लिए 11 घंटे से अधिक की बल्लेबाजी की. उन्होंने न्यूजीलैंड की ओर से छठा सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत स्कोर बनाया. मौजूदा वर्ष में यह किसी भी बल्लेबाज का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है.

मेंडिस और मैथ्यूज ने बनाया ये रिकॉर्ड
श्रीलंका की दूसरी पारी की शुरुआत भी खराब रही थी और उसने 13 रनों के अंदर ही तीन विकेट खोए.  लेकिन इसके बाद मेंडिस और मैथ्यूज ने चौथे दिन बेहतरीन पारी खेली और बिना आउट हुए रिकॉर्ड साझेदारी की. टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 22वीं बार ऐसा हुआ है कि एक दिन में किसी टीम ने एक भी विकेट नहीं खोया. चौथे दिन श्रीलंका की टीम ने एक भी विकेट नहीं गंवाया. टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 22वीं बार ऐसा हुआ है कि एक दिन में किसी टीम ने एक भी विकेट नहीं खोया.

हमें पहले टेस्ट से सीख लेने की जरूरत: चंडीमल
श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंडीमल ने ड्रॉ मैच के बाद माना कि उनकी टीम को इससे काफी कुछ सीखने की जरूरत है. चंडीमल ने कहा, ‘हमने पांचों दिन विपक्षी टीम का कड़ा मुकाबला किया. इस मैच से हमें बहुत कुछ सीखने की जरूरत है और हम उन चीजों का अगले मैच में लागू करने के लिए उत्सुक हैं.’

कप्तान ने इस मैच में नाबाद 120 रनों की पारी खेलने वाले हरफनमौला खिलाड़ी एंजेलो मैथ्यूज की भी तारीफ की. चंडीमल ने कहा, ‘पिच पर जाकर बल्लेबाजी करना आसान नहीं था. एंजेलो ने पिछले चार-पांच मैचों में शानदार प्रदर्शन किया है और वह जब भी बल्लेबाजी करने जाते हैं, हमें उनसे रनों की उम्मीद होती है। उन्होंने पहली पारी में भी बेहतरीन खेल दिखाया.’